rahul gandhi तमिलनाडु में मोदी सरकार पर बरसे राहुल, कहा- शिक्षा नीति में बदलाव से पहले छात्रों और प्रोफेसर से हो चर्चा

चेन्नई: विधानसभा चुनाव की तारीखों के बाद जुबानी जंग तेज हो चली है। एक बार राहुल गांधी ने केंद्र सरकार पर निशाना साधा है। इसके पीछे वजह यह है कि, कांग्रेस किसी भी हाल में दक्षिण भारत के राज्य गवाना नहीं चाहती है। इसलिए खुद राहुल गांधी ने वोटरों का साधने के मोर्चा संभाल लिया है। और लगातार दक्षिण भारत के राज्यों का दौरा कर रहे हैं। एक बार फिर राहुल चुनाव की तारीखों के एलान के बाद तमिलनाडु पहुंच और मोदी सरकार पर जमकर बरसे।

शिक्षा नीति पर सवाल

इस दौरान राहुल ने केंद्र सरकार द्वारा बनाई गई नई शिक्षा नीति पर सवाल उठाए। राहुल ने कहा कि, अगर हमें शिक्षा नीति में कोई भी बदलाव करना है। तो सबसे पहले छात्रों और प्रोफेसरों से उस पर चर्चा करनी चाहिए। लेकिन दुर्भाग्य की बात यह है कि देश में ऐसा नहीं हुआ। राहुल गांधी ने आगे कहा कि मेरा मानना है कि शिक्षा केवल आर्थिक रूप से मजबूत लोगों की नहीं होनी चाहिए बल्कि सभी वर्ग के लोगों के लिए होनी चाहिए

राहुल का छात्रों से वादा

राहुल गांधी विधानसभा चुनाव के बीच अपनी चुनावी दांव खेल दिया है। राहुल ने छात्रों से वादा किया कि अगर वह सत्ता में आते हैं तो सभी वर्ग के छात्रों को स्कॉलशिप दी जाएगी। ताकि सभी वर्ग के लोग सामान रूप से पढ़ाई कर सके। बता दें कि इस दौरान राहुल ने तिरुनेलवेली में सेंट जेवियर्स कॉलेज के प्रोफेसरों के साथ बातचीत की।

बता दें कि तमिलाडु पहुंचने से पहले राहुल गांधी ने ट्वीट कर भी मोदी सरकार पर किसानों को लेकर हमला बोला था। उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा,’ हिम्मत है तो करो- किसान की बात, जॉब की बात।’

 

अयोध्या: राम नाम पर दिल खोलकर दान, अबतक इकट्ठा हुई इतनी धनराशि

Previous article

यूपी पंचायत चुनाव: राजा के गढ़ में बाहुबली की एंट्री, क्या बदलेगा सियासी समीकरण?

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.

More in featured