featured देश राज्य

राहुल गांधी का बयान कहा, घमंण्ड की वजह से हारे थे 2014 का चुनाव

rahul gandhi 10 राहुल गांधी का बयान कहा, घमंण्ड की वजह से हारे थे 2014 का चुनाव

लंदनः कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि सत्ताधारी भाजपा से मुकाबले के लिए एक ‘‘ताकतवर गठबंधन’’ बनाकर कांग्रेस 2019 के लोकसभा चुनावों में जीत हासिल करेगी। हाउस ऑफ कॉमंस परिसर में ‘भारत एवं विश्व’ नाम के एक परिचर्चा कार्यक्रम के दौरान राहुल ने देश की पिछड़ी जातियों और अल्पसंख्यकों को अलग-थलग रखने की राजनीति के जरिए राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ जैसी ताकतों की कट्टर और नफरत से भरी विचारधारा को भारत पर थोपने की कोशिश के खिलाफ चेताया।

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी
कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी

अगला चुनाव बहुत दिलचस्प

उन्होंने 2019 के लोकसभा पर कहा कि अगला चुनाव बहुत ही दिलचस्प होने वाला है। आगामी चुनाव भाजपा-आरएसएस बनाम पूरा विपक्ष होगा। वहीं राहुल गांधी ने कहा कि 2014 के आम चुनावों में मिली हार की वजह भी बताई। उन्होंने स्वीकार किया कि 10 साल तक सत्ता में रहने की वजह से उसमें एक हद तक दंभ आ गया था। इंटरनेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ स्ट्रेटजिक स्टडीज में यहां एक सवाल के जवाब में गांधी ने कहा, आपको सुनना होगा – नेतृत्व का आशय सीखना है।

सिख विरोधी दंगे में दिया यह जवाब

गांधी से जब पूछा गया कि उनकी पार्टी ने 2014 में मिली चुनावी शिकस्त से क्या सीखा, तो उन्होंने कहा, 10 साल तक सत्ता में रहने के बाद कांग्रेस में कुछ हद तक दंभ आ गया था और हमनें सबक सीखा। ब्रिटेन के सांसदों और स्थानीय नेताओं को संबोधित करते हुए राहुल ने कहा कि युवा नेताओं को साथ लाकर और महिला नेताओं को ज्यादा जगह देकर पार्टी खुद को बदलने को लेकर प्रतिबद्ध है। साल 1984 के सिख विरोधी दंगों में कांग्रेस पार्टी की ‘‘संलिप्तता’’ के बारे में पूछे गए एक सवाल के जवाब में राहुल ने उस घटना को ‘‘त्रासदी’’ और ‘‘दर्दनाक अनुभव’’ करार दिया, लेकिन इस बात से सहमत नहीं हुए कि कांग्रेस इसमें ‘‘शामिल’’ थी।

मैं इसमें 100 फीसदी समर्थन दूंगा

कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा, ‘‘मैं समझता हूं कि किसी के खिलाफ की गई कोई भी हिंसा गलत है। भारत में कानूनी प्रक्रियाएं चल रही हैं, लेकिन जहां तक मेरी राय है, उस दौरान हुई किसी भी गलती के लिए सजा मिलनी चाहिए…मैं इसमें 100 फीसदी समर्थन दूंगा।’’

Related posts

प्रयागराज : निरंजनी अखाड़े के सचिव महंत रवीन्द्र पुरी बने अखाड़ा परिषद के नए अध्यक्ष

Neetu Rajbhar

सीएम रावत ने किया उद्यमियों और विषय विशेषज्ञों के साथ आयोजित आर्थिक परिचर्चा में प्रतिभाग

Rani Naqvi

सपा-कांग्रेस के गठबंधन में अमेठी सीट के फंसा पेंच

kumari ashu