Breaking News featured देश राज्य

गृह मंत्रालय का राहुल की सुरक्षा पर बयान, उन्हें कोई खतरा नहीं है

राहुल गांधी ने पीएम मोदी को लेकर फिर दिया विवादित बयान, कहा- कमांडर इन चीफ

नई दिल्ली। अमेठी में रोड शो के दौरान कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के शरीर पर हरी लेजर लाइट दिखने को लेकर सुरक्षा संबंधी कथित चिंता पर गृह मंत्रालय ने कहा कि इससे उनको कोई खतरा पैदा नहीं हुआ है।
मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा इस संबंध में उन्हें कोई पत्र नहीं मिला है, लेकिन घटना की रिपोर्ट पर मंत्रालय का जैसे ही ध्यान आकर्षित कराया गया, वैसे ही निदेशक (एसपीजी) को तथ्यात्मक स्थिति की जांच करने को कहा गया। प्रवक्ता ने बताया कि एसपीजी ने वीडियो की जांच बारीकी से की है।
इसमें जो हरी लाइट दिख रही है वह एक मोबाइल फोन की है जो कांग्रेस का फोटोग्राफर चला रहा था। वह अमेठी में कलेक्टरेट के पास कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष राहुल गांधी की प्रेस के साथ बातचीत की वीडियो बना रहा था। सुरक्षा में चूक की कथित घटना उस वक्त की है जब अमेठी में रोड शो के दौरान राहुल गांधी पर हरे रंग की लेजर लाइट दिखी थी। बाद में पाया गया कि यह लाइट असल में एक कैमरे की थी।
पूर्व एसपीजी प्रमुख के दुर्गा प्रसाद का कहना है कि अमूमन स्नाइपर जो गन प्रयोग करते हैं उनकी कुछ लाइट होती है, लेकिन यह जरूरी नहीं है कि कोई लेजर बीम बाहर आए। के दुर्गा प्रसाद का कहना है कि हरा इफेक्ट अगर चेहरे पर दिखा तो वहां मौजूद सुरक्षाकर्मी सुरक्षा के लिहाज से तुरंत इसकी जांच कर सकते थे। ऐसे मामलों में तुरंत जांच की जाती है।
कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के अमेठी में नामांकन दाखिल करने के दौरान उनके शरीर पर लेजर लाइट दिखने को लेकर गृह मंत्री राजनाथ सिंह को कथित तौर पर लिखे गए पत्र को पार्टी ने नकार दिया है। कांग्रेस प्रवक्ता अभिषेक मनु सिंघवी कांग्रेस ने सार्वजनिक हुए पत्र के बारे में कहा, कोई चिट्ठी नहीं लिखी गई है। गृह मंत्रालय ने व्यापक सूचना दी है। कोई शिकायत नहीं की गई है।

Related posts

प्रेमी ने दिलाया शराबी पति से छुटकारा, इस सुराग के जरिए आरोपियों तक पहुंची पुलिस

Shailendra Singh

घर बैठे लीजिए केजीएमयू के विशेषज्ञों से परामर्श

sushil kumar

एनएसजी के लिए चीन के साथ संपर्क जारी रहेगा: सुषमा

bharatkhabar