सोनिया गांधी और केजीबी के संबंध का रिकॉर्ड दें पुतिन-सुब्रमण्यन स्वामी 

विवादित बयानों के लिए मशहूर राज्यसभा सांसद और भाजपा के नेता सुब्रमण्यन स्वामी  इस बार रूस के राष्ट्रपति पुतिन पर निशाना साधा है। राज्यसभा में सांसद स्वामी ने कहा कि सुभाषचंद्र बोस और लाल बहादुर शास्त्री की फाइल का खुलासा कर पुतिन को सबूत देना चाहिए कि वह हमारे दोस्त हैं।साथ ही स्वामी ने सोनिया गांधी और केजीबी (रूस की जासूसी एजेंसी) के कनेक्शन का आरोप लगाया। स्वामी ने कहा कि पुतिन को इसके दस्तावेज हमें देने चाहिए।

 

सोनिया गांधी और केजीबी के संबंध का रिकॉर्ड दें पुतिन-सुब्रमण्यन स्वामी 
सोनिया गांधी और केजीबी के संबंध का रिकॉर्ड दें पुतिन-सुब्रमण्यन स्वामी

इसे भी पढ़ेःराजस्थान के बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष होगें राज्यसभा सांसद मदनलाल सैनी!

मालूम हो कि रूस के राष्ट्रपति पुतिन हाल ही में भारत के दौरे पर आए थे। इस दौरे पर रूस और भारत के बीच बहुप्रतिक्षित S-400 हवाई रक्षा प्रणाली का सौदा हुआ। गौरतलब है की भारत-रूस के इस सौदे पर अमेरिका ने आपत्ति जताी थी। इस बीच सुब्रमण्यन स्वामी का यह बयान सामने आया है।

सांसद स्वामी ने रूसी राष्ट्रपति पुतिन के बहाने यूपीए चेयरपर्सन और कांग्रेस की पूर्व अध्यक्ष सोनिया गांधी पर भी निशाना साधा है। स्वामी ने कहा है कि पुतिन को बताना चाहिए कि सोनिया गांधी हाल में दो बार रूस उनसे मिलने क्यों गईं। स्वामी ने सोनिया गांधी पर रूस की जासूसी एजेंसी (केजीबी) से भी कनेक्शन का आरोप लगाते हुए कहा कि पुतिन को सोनिया व उनके पिता के केजीबी से संबंधों के दस्ताबेज हमें देना चाहिए।

सुब्रमण्यन स्वामी गांधी परिवार के प्रबल आलोचक रहे हैं। स्वामी ने नैशनल हेरल्ड मामले में भी गांधी परिवार के खिलाफ याचिका लगा रखी है। कुछ दिनों पहले कांग्रेस के सीनियर नेता मोतीलाल वोरा ने स्वामी पर आरोप लगाते हुए कहा था कि वह सोशल मीडिया पर प्रतिक्रिया देकर नैशनल हेकल्ड केस की सुनवाई को प्रभावित करने की कोशिश कर रहे हैं। वोरा के वरिष्ठ वकील आर.एस.चीमा ने कोर्ट में कहा था कि स्वामी ट्वीट कर आरोपियों का ‘चरित्र हनन’ करते हैं।

महेश कुमार यादव