खेल

प्रो कबड्डी लीग : फाइनल के लिए जंग आज

pro kabbadi प्रो कबड्डी लीग : फाइनल के लिए जंग आज

हैदराबाद। स्टार स्पोर्ट्स प्रो कबड्डी लीग (पीकेएल) सीजन-4 के सेमीफाइनल मुकाबले शुक्रवार को खेले जाएंगे। पहला सेमीफाइनल मौजूदा चैम्पियन पटना पाइरेट्सट और पुनेरी पल्टन के बीच होगा जबकि दूसरा सेमीफाइनल जयपुर पिंक पैंथर्स और तेलुगू टाइटंस के बीच होगा। हैदराबाद के गाचीबावली इनडोर स्टेडियम में सेमीफाइनल और फाइनल खेले जाने हैं। यहीं 30 जुलाई को महिला कबड्डी चैलेंज का भी फाइनल खेला जाएगा।

pro kabbadi

लीग के चौथे संस्करण में पटना से हुए दो मुकाबलों में पुणे को मात मिली। इसलिए, पुणे को एक अलग रणनीति के साथ भिड़ना होगा। तालिका में 42 अंकों के साथ चौथे स्थान पर काबिज पुणे ने 14 में से छह मैच जीते और छह हारे तथा दो मुकाबले टाई रहे। लगातार दूसरी बार खिताब जीतने के लिए उत्साहित पटना की टीम में बाजीराव होड़गे प्रदीप और कुलदीप जैसे डिफेंडर हैं, तो वहीं प्रदीप नरवाल (कप्तान), राजेश मोंडल जैसे रेडर शामिल हैं, जिन्होंने लीग तालिका में 52 अंकों के साथ शीर्ष पर काबिज टीम को कमजोर नहीं पड़ने दिया।

पुणे की टीम में रविंदर पहल और मंजीत चिल्लर (कप्तान), अजय ठाकुर, नितिन तोमर और दीपक निवास हुड्डा जैसे खिलाड़ी शामिल हैं, जिनके दमदार खेल ने टीम को लीग की दौड़ में बनाए रखा है। शुक्रवार को होने वाले दूसरे सेमीफाइनल मुकाबले में जयपुर पिंक पैंथर्स का सामना तेलुगू टाइटंस से होगा। अपने पहले दो मुकाबलों में जयपुर को टाइटंस से हार मिली है।

लीग के पहले संस्करण का खिताब जीतने वाली और सीजन-4 की तालिका में 14 मुकाबलों में से आठ में जीत और पांच मुकाबलों में हार का सामना कर 47 अंकों के साथ तीसरे स्थान पर काबिज जयपुर टीम ने हालांकि, सबसे पहले चौथे संस्करण के सेफाइनल में प्रवेश किया। अपने बेहतरीन प्रदर्शन से तालिका में जयपुर को पीछे छोड़ते हुए दूसरे स्थान पर पहुंची तेलुगू टीम तालिका में 50 अकों के साथ दूसरे स्थान पर है। उसने अब तक खेले गए 14 मुकाबलों में से आठ में जीत और चार में हार का सामना किया।

टीम के पास कप्तान राहुल चौधरी, सुकेश हेगड़े, संदीप नरवाल, जसमेर सिंह गुलिया और नीलेश सोलंकी जैसे खिलाड़ी हैं, जो हारी हुई बाजी को जीत में तब्दील करने में माहिर हैं और उन्होंने कई मौंकों पर इस बात को साबित करके भी दिखाया है। हालांकि, जयपुर के पास भी दमदार खिलाड़ियों की कमी नहीं है। दूसरी बार लीग खिताब जीतने के लिए आतुर जयपुर के पास जसवीर सिंह, राजेश नरवाल और शब्बीर बप्पू जैसे रेडर तथा रण सिंह, अमित हुड्डा जैसे डिफेंडर हैं, जो तेलुगू की मजबूत टीम पर भारी पड़ सकते हैं।

 

Related posts

महिला विश्वकप: न्यूजीलैंड को 186 रनों से हराकर भारत सेमीफाइनल में पहुंचा

Rani Naqvi

कोच अनिल कुंबले को लिए बिना ही टीम हुई रवाना वेस्टइंडीज दौरे पर

Srishti vishwakarma

शेयर बाजार में शानदार तेजी के बाद हाहाकार, 500 अंक लुढ़का सेंसेक्स

Rani Naqvi