August 15, 2022 12:11 am
featured यूपी

प्रियंका गांधी ने शुरू किया ‘जिम्‍मेदार कौन है?’ अभियान, सरकार से पूछेंगी सवाल    

प्रियंका गांधी ने यूपी सरकार पर बोला हमला

लखनऊ: कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने ‘जिम्मेदार कौन?’ के नाम से एक अभियान की शुरुआत की है। इस अभियान के तहत वे जनता की तरफ से केंद्र सरकार से सवाल पूछेंगी। इस बाबत कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने फेसबुक पर पोस्ट भी साझा किया है।

यूपी कांग्रेस प्रभारी प्रियंका गांधी ने फेसबुक पोस्ट में लिखा है कि, कोविड की सेकेंड वेव ने जब देश में तबाही मचानी शुरू की और देश की जनता ऑक्‍सीजन, बेड, वैक्सीन और दवाइयों के लिए संघर्ष कर रहे थे, उस समय लोगों को सरकार से उम्मीद थी कि इस भयावह स्थिति से निपटने के लिए वह पहले की तैयारियों एवं देश में उपलब्ध संसाधनों का पूरा प्रयोग लोगों की जान बचाने के लिए करेगी।

इन बिंदुओं पर सरकार फेल

उन्होंने लिखा है कि, मगर सरकार पूरी तरह से मूकदर्शक मोड में रही और पूरे देश में एक कष्‍टदायी स्थिति पैदा हुई। सरकार के पास कोविड से जंग की तैयारी के नाम पर केवल लापरवाही की तस्वीर थी। ऑक्सीजन के निर्यात को 2020 में दोगुना करना, वैक्सीनों का निर्यात करना, दूसरे देशों की तुलना में जनसंख्या के अनुपात से बहुत कम वैक्सीन, देरी से ऑर्डर करना आदि जैसे कई बिंदु हैं, जिस पर सरकार का एकदम गैर-जिम्मेदाराना व्यवहार रहा।

कांग्रेस महासचिव ने लिखा कि, दूसरी लहर की कितनी घातक थी, इसके बारे में मौत के आंकड़े ही बताते हैं। कई सारी दर्दनाक तस्‍वीरें देश भर से सामने आईं। वे दिन पूरे देश ने बहुत पीड़ा में काटे। ना जाने कितनों ने अपनों को खो दिया है।

सरकार से सवाल

प्रियंका गांधी ने फेसबुक पोस्ट में आगे लिखा कि, जब आज प्राकृतिक रूप से कोरोना की दूसरी लहर थोड़ी थम रही है तो सरकार अचानक अपनी मीडिया और मशीनरी से दोबारा दिखने लगी है। हमारे प्रधानमंत्री और उनके मंत्री फिर से आगे आकर बयान देने लगे हैं। उन्‍होंने सवाल पूछते हुए लिखा कि, लेकिन हम यहां कैसे पहुंचे? विश्‍व के सबसे बड़े वैक्सीन उत्‍पादक में से एक, जिसके डॉक्‍टर पूरी दुनिया में फेमस हैं, ऑक्‍सीजन उत्पादक में से एक, लेकिन आज इस मुकाम पर हम कैसे पहुंचे कि वैक्‍सीन, ऑक्‍सीजन व बेड्स की कमी से हमारे देशवासी अपनी जान दे रहे हैं?

प्रियंका गांधी ने लिखा कि, हर एक देशवासी नागरिक की जान कीमती है। सरकार नागरिकों के प्रति जवाबदेह है। जिन लोगों ने अपने परिजन खोए हैं, उनके प्रति जवाबदेह है। इसीलिए हर एक मुद्दे पर सरकार से बेबाक सवाल पूछे जाने जरूरी हैं। अनगिनत जानें सरकारी लापरवाही के चलते गईं, इसलिए सवाल पूछे जाने जरूरी हैं।

सरकार से सवाल पूछना जरूरी

महासचिव प्रियंका गांधी ने पोस्‍ट में लिखा कि, इन सवालों की जवाबदेही इसलिए भी जरूरी है, जिससे सरकार आगे की तैयारियों को लेकर देश के नागरिकों के सामने पूरा खाका पारदर्शिता के साथ रखे। ताकि कुर्सी पर बैठे हुए लोगों को इस देश के प्रति अपनी ज़िम्मेदारी और अपनी जवाबदेही समझ में आए। इसलिए ये पूछना पड़ेगा कि ज़िम्मेदार कौन है?

यूपी कांग्रेस प्रभारी ने फेसबुक पोस्ट के अंत में लिखा कि, आने वाले कुछ दिनों तक मैं आपके सामने ‘ज़िम्मेदार कौन?’ के तहत कुछ तथ्य रखूंगी, ताकि आप मौजूदा दयनीय स्थिति की वजह को समझें। मैं आपकी ओर से केंद्र सरकार से कुछ सवाल पूछूंगी, जिनका जवाब देना आपके प्रति उनका कर्तव्य है। आपके सुझावों व सहयोग का स्वागत है।

Related posts

ब्रजघाट बनेगा उत्तर प्रदेश का नया हरिद्वार

Saurabh

पश्चिम बंगाल चुनाव: ममता बनर्जी से शुभेंदु अधिकारी की सीधी टक्कर, नंदीग्राम से लड़ेंगे चुनाव

Saurabh

महाराष्ट्र में फूटा कोरोना बम, एक हॉस्टल में 190 छात्र हुए कोरोना पॉजिटिव, परिसर कंटेनमेंट जोन घोषित

Yashodhara Virodai