पॉक्सो एक्ट पर बोले प्रधानमंत्री- ‘जा राक्षसी काम करेगा, उसे फांसी पर लटकाया जाएगा’

पीएम नरेंद्र मोदी आज मध्य प्रदेश के दौरे पर हैं। प्रधानमंत्री ने यहां पर मंडला जिले के रामनगर में राष्ट्रीय पंचायती राज दिवस का शुभारंभ किया। इस अवसर पर तीन दिवसीय आदि उत्सव का भी उद्घाटन किया गया। प्रधानमंत्री ने इस दौरान कई ग्राम पंचायतों के सरपंचों को सम्मानित भी किया।

 

 

पीएम मोदी ने अपने भाषण की शुरुआत आदिवासी भाषा में बोलकर की। प्रधानमंत्री ने यहां भाषण में कहा कि आदिवासी भाईयों ने हमेशा ही देश के लिए काम किया है, फिर चाहे वो अंग्रेजों के खिलाफ लड़ाई हो या फिर देश का विकास हो।

 

प्रधानमंत्री ने इस दौरान हाल में POCSO एक्ट में किए गए बदलाव के बारे में भी कहा। उन्होंने कहा कि जो भी राक्षसी काम करेगा, उसे फांसी पर लटकाया जाएगा। आज की केंद्र सरकार लोगों की भावनाओं को समझती है और उसके हिसाब से निर्णय ले रही है।ये एक सामाजिक बदलाव है, हमें अपने लड़कों को भी समझाना होगा। बेटों को बेटियों की इज्जत करना सिखाना होगा। परिवारों को घर के अंदर ही इस बदलाव को शुरू करना होगा।

 

गौरतलब है कि पिछले दिनों देश में कठुआ और उन्नाव गैंगरेप को लेकर जनता ने आरोपियों को कड़ी से कड़ी सजा देने की मांग की थी। जिसके बाद सरकार ने मामले को गंभीरता से लेते हुए प्रोटेक्शन ऑफ चिल्ड्रेन फ्रॉम सेक्सुअल ऑफेंसेज एक्ट 2012 में संशोधन किया है। जिसके बाद रेप के दोषी को फांसी की सजा का प्रावधान कर दिया गया है। आपको बता दें इससे पहले बलात्कारी को सात साल की सजा से लेकर उम्र कैद सजा का कानून था लेकिन अब सरकार ने बलात्कारियों पर लगाम कसने के तैयारी कर ली है।