Delhi Government to provide free entrance coaching to SC ST students दिल्ली सरकार कर रही अधिकारियों के साथ मीटिंग के लाइव प्रसारण की तैयारी

नई दिल्ली। दिल्ली प्रदेश के मुख्य सचिव के साथ मारपीट के मामले को लेकर नया मोड़ आ गया है। दिल्ली सरकार इस मामले से बचने के लिए अफसरों और सरकार के बीच अपनी बैठकों को लाइव करने पर चर्चा कर रही है, जिसके लिए एक वेबसाइट पर आगामी बैठकों का लाइव प्रसारण किए जाने पर विचार हो रहा है। इसके अलावा सरकार की मंशा फाइलों पर मंत्रियों और अफसरों की नोटिंग को भी ऑनलाइन करने की तैयारी है। दूसरी तरफ पिछले एक सप्ताह से अफसरों और दिल्ली सरकार के बीच बने गतिरोध के शांत होने के कोई संकेत नजर नहीं आ रहे हैं और अफसर अभी भी सीएम और डिप्टी सीएम की मांफी की मांग पर अड़े हुए हैं। Delhi Government to provide free entrance coaching to SC ST students दिल्ली सरकार कर रही अधिकारियों के साथ मीटिंग के लाइव प्रसारण की तैयारी

दिल्ली सरकार और अफसरों के बीच होने वाली बैठकों को लाइव करने को लेकर कहा जा रहा है कि इसके जरिए सरकार दिल्ली की जनता तक ये भी पहुंचाने की तैयारी कर रही है कि आखिर फाइलों के अंदर क्या लिखा होता है और फाइल क्लियर करने में देरी क्यों होती है। इसके अलावा अधिकारियों और सरकार के मंत्रियों ने फाइल को लेकर क्या कहा है इसे भी दिल्ली की जनता देख सके। सरकार के विचाराधीन फैसले को लेकर एक सीनियर अधिकारी का कहना है कि अगर इस योजना को पास किया जाता है तो आने वाले बजट में इसके लिए अलग से एक राशि आवंटित करनी होगी ताकि इस योजना का सही से पालन किया जा सके।

गौरतलब है कि दिल्ली के चीफ सेक्रेटरी अंशु प्रकाश से कथित मारपीट मामले के एक हफ्ते बाद आम आदमी पार्टी सरकार सभी आधिकारिक बैठकों के सीधे प्रसारण करने की योजना बना रही है। सरकार के एक सीनियर अधिकारी का कहना है कि सरकार एक वेबसाइट पर बैठकों का सीधा प्रसारण करने की योजना बना रही है, जिसे हर कोई देख सकता है। अधिकारी ने कहा कि लोग यह जान पाएंगे कि बैठक में किसने क्या बोला, फिर चाहे वह चुने हुए प्रतिनिधि हो या या अधिकारी। वहीं चीफ सेक्रेटरी के साथ कथित मारपीट की घटना के बाद असोसिएशन मांग कर रही है कि सीएम व डिप्टी सीएम इस घटना के लिए माफी मांगें।

ट्रंप ने उतारी पीएम मोदी की नकल, बताया शानदार शख्स

Previous article

बिहार विधानसभा में बजट पेश होने से पहले मनोज बैठा को लेकर हंगामा

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.

More in featured