money केंद्र सरकार ने बचत योजनाओं के ब्याज दर में कटौती का फैसला लिया वापस, पुरानी दर से मिलता रहेगा रिटर्न

नई दिल्ली: सरकार ने बचत योजनाओं के ब्याज दर में कटौती के फैसले को वापस ले लिया है। इसकी जानकारी खुद वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने दी। वित्तमंत्री ने सुबह ट्वीट कर ऐलान को वापल लिया है। साथ ही वित्तमंत्री ने यह भी कहा कि यह आदेश गलती से निकल गया था। जिसे अब वापस लिया जा रहा है। सरकार के इस फैसले से करोड़ों लोगों को राहत मिलेगी।

PPF समेत छोटी दर में पहले हो चुकी है कटौती

इससे पहले सरकार ने बुधवार को एक अप्रैल 2021 से छोटी बचत योजनाओं पर ब्याज दर को घटा दिया था। ब्याज दर की यह कटौती पहली तिमाही के लिए किए जाने का एलान किया गया था. वित्त मंत्रालय की अधिसूचना के अनुसार पीपीएफ पर ब्याज 0.7 फीसदी कम कर 6.4 फीसदी जबकि एनएससी पर 0.9 फीसदी कम कर 5.9 फीसदी करने की घोषणा की थी।

पहले हुआ था ये ऐलान?

पंच वर्षीय वरिष्ठ नागरिक बचत योजना पर ब्याज दर 0.9 फीसदी घटाकर 6.5 फीसदी कर दी गयी थी। इस योजना के तहत ब्याज तिमाही आधार पर दिया जाता है। पहली बार बचत खाते में जमा रकम पर ब्याज 0.5 फीसदी घटाकर 3.5 फीसदी कर दी गयी थी। ब्याज में सर्वाधिक 1.1 फीसदी की कटौती एक साल की मियादी जमा राशि पर की गयी थी। इसी प्रकार, दो साल के लिए मियादी जमा पर पर ब्याज 0.5 फीसदी टाकर 5 फीसदी, तीन साल की अवधि के मियादी जमा पर ब्याज 0.4 फीसदी कम किया गया था जबकि पांच साल के लिए मियादी जमा पर ब्याज 0.9 फीसदी कम कर 5.8 फीसदी कर दिया गया था।

केरल में आज योगी भरेंगे चुनावी हुंकार, रोड शो और सभा को करेंगे संबोधित

Previous article

आज से शुरू होगा चौथे चरण का टीकाकरण, 5000 से अधिक केंद्रों पर लगेगी वैक्सीन

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.

More in featured