Breaking News featured देश राज्य

पोस्टर वार: बीजेपी ने सीएम को बताया लालू का दोस्त, चुप्पी पर उठाए सवाल

BJP AAP पोस्टर वार: बीजेपी ने सीएम को बताया लालू का दोस्त, चुप्पी पर उठाए सवाल

नई दिल्ली। आम आदमी पार्टी के 20 विधायकों को अयोग्या घोषित ठहराए जाने और दिल्ली हाईकोर्ट द्वारा इस मामले को लेकर पार्टी की याचिका को खारिज किए जाने के बाद दिल्ली में इन 20 सीटों पर उपचुनाव की सुगबुगाहट तेज हो गई है। इन विधायकों को लेकर विधानसभा में विपक्षी दल बीजेपी और कभी दिल्ली की सत्ता पर 15 साल तक राज करने वाली कांग्रेस आम आदमी पार्टी को घेरने का कोई मौका नहीं छोड़ रही है। इसी कड़ी में बीजेपी द्वारा विरोध का एक नया ही तरीका अपनाया गया है, जिसे हम पोस्टर वार कहें तो गलत नहीं होगा।
BJP AAP पोस्टर वार: बीजेपी ने सीएम को बताया लालू का दोस्त, चुप्पी पर उठाए सवाल

दरअसल दिल्ली के तमाम इलाकों में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और आरजेडी प्रमुख लालू प्रसाद यादव के गले मिलते हुए पोस्टर लगाए गए हैं। इन पोस्टरों के जरिए बीजेपी ने अरविंद केजरीवाल से सवाल किया है कि सीएम ने लालू की सजा पर चुप्पी क्यों साधी हुई है। बता दें कि इस पोस्टर को दिल्ली बीजेपी के प्रवक्ता तेजिंदर बग्गा ने लगवाया है। पोस्टर को लेकर उन्होंने कहा कि अन्ना आंदोलन के समय अरविंद केजरीवाल लालू यादव पर भ्रष्टाचार को लेकर निशाना साधते थे, लेकिन अब हर मुद्दे पर बोलने वाले सीएम केजरीवाल ने लालू को मिली सजा को लेकर चुप्पी क्यों साध ली है।

पोस्टर में भी यही लिखा गया है कि तथाकथित ईमानदार मुख्यमंत्री अपने दोस्त लालू यादव की सजा पर मौन क्यों है’? यानी कि केजरीवाल की ईमानदारी को तथाकथित और लालू यादव को पोस्टर में उनका दोस्त बताया गया है। गौरतलब है कि चारा घोटाले के अलग-अलग मामलों में लालू को सीबीआई की विशेष अदालत ने साढे़ आठ साल की सजा सुनाई है और हर मुद्दे पर बोलने वाले केजरीवाल ने इस मामले को लेकर चुप्पी साध ली है। बताते चलें कि अन्ना आंदोलन के वक्त सीएम केजरीवाल मुखर होकर आरजेडी प्रमुख लालू प्रसाद यादव पर निशाना साधा करते थे।

Related posts

डब्बू अंकल की निकल पड़ी, सलमान के बाद अब गोविंदा संग लगायेंगे ठुमके

mohini kushwaha

बार्डर पर चीन बढ़ा रहा सैन्य बल, क्या बोले एस जयशंकर

Mamta Gautam

चर्चा का कारण बनी वॉयनाड सीट, आज राहुल गांधी करेंगे नामांकन, वामदलों ने कहा, सिखा देंगे चुनाव लड़ना

bharatkhabar