प्रयागराज में मतदान कर्मियों का प्रशिक्षण कार्यक्रम, दिए गए ये निर्देश

प्रयागराज: उत्‍तर प्रदेश के प्रयागराज जिले में पंचायत चुनाव सकुशल संपन्‍न कराने के लिए मतदानकर्मियों का प्रशिक्षण कार्यक्रम चलाया जा रहा है।

त्रिस्तरीय पंचायत सामान्य निर्वाचन 2021 के लिए जिले के तीन प्रशिक्षण केंद्रों प्रयाग संगीत समिति, एमएनआइटी और इलाहाबाद मेडिकल एसोसिएशन के सभागार में प्रशिक्षण कार्यक्रम चलाया कराया जा रहा है। इसमें बुधवार को कुल 4800 कर्मियों को प्रशिक्षण दिया गया। हालांकि, इस दौरान 279 मतदान कर्मी अनुपस्थित रहे।

कोरोना प्रोटोकॉल का हुआ पालन

प्रशिक्षण के दौरान कोरोना गाइडलाइंस का पालन किया गया और तीनों प्रशिक्षण केंद्रों के सभागार में सीटों सापेक्ष 50 फीसद से भी कम कर्मियों को ही बुलाया गया। इस दौरान तीनों प्रशिक्षण केंद्रों के प्रवेश द्वार पर ही मतदान कर्मियों की थर्मल स्क्रीनिंग कराई गई। साथ ही हाथों को सैनिटाइज कराया गया व मास्क बांटे गए।

तीनों प्रशिक्षण केंद्रों के 45 वर्ष से अधिक उम्र के मतदान कर्मियों का स्वरूपरानी मेडिकल अस्पताल व तेज बहादुर सप्रू अस्पताल में कोरोना वैक्‍सीनेशन भी कराया गया। वहीं, मुख्‍य विकास अधिकारी (सीडीओ) सीपु गिरी ने इन प्रशिक्षण केंद्रों का निरीक्षण किया।

चुनाव के हीरो होते हैं निर्वाचन कार्मिक: सीडीओ

मतदान कर्मियों को संबोधित करते हुए सीडीओ सीपु गिरी ने कहा कि, लोकतंत्र के इस उत्सव में हम सभी को मिलकर अपना योगदान देना है और पंचायत चुनाव को सफलतापूर्वक पूर्ण करना है। उन्होंने चुनाव कार्मिकों को निर्वाचन के हीरो संबोधित करते हुए कहा कि, आप लोग प्रत्येक गांव का भविष्य तय करने वाले जनप्रतिनिधियों को उन ग्राम पंचायतों को सौंपेंगे, जो गौरव की बात है।

प्रशिक्षण के दौरान मतदान कर्मियों में भी प्रशिक्षण व आगामी मतदान को लेकर उत्साह दिखाई दिया। उन्‍होंने एक स्वर में कहा कि, जिले में पंचायत चुनाव को निष्पक्ष सुरक्षित एवं सकुशल पूर्ण कराया जाएगा।

up chunav 2021 प्रयागराज में मतदान कर्मियों का प्रशिक्षण कार्यक्रम, दिए गए ये निर्देश


निर्वाचन कार्य में अनुपस्थित रहने पर होगी
FIR: डीएम

वहीं, जिलाधिकारी प्रयागराज ने प्रशिक्षण की समीक्षा करते हुए कहा कि, चुनाव कार्य में अनुपस्थित रहने वाले कर्मियों के खिलाफ वेतन काटने व विभागीय कार्यवाही करने के साथ ही सुसंगत धाराओं में एफआइआर दर्ज कराने के निर्देश दिए गए हैं। उन्‍होंने आगामी प्रशिक्षण में अनुपस्थित रहने वाले कर्मियों को चेतावनी देते हुए कहा कि, यदि चुनाव कार्य में किसी भी कर्मचारी या अधिकारी द्वारा शिथिलता बरती जाती है या अनुपस्थित रहते हैं तो उनके खिलाफ कठोर कार्रवाई सुनिश्चित की जाएगी।

टीकाकरण के बाद भी हुआ कोरोना तो किया बड़ा खुलासा, जानकर आप भी…

Previous article

आजादी के बाद पहली बार यूपी के इस गांव में होगी वोटिंग, जानिए पूरी कहानी

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.

More in featured