smriti iraani राहुल गांधी के बयान पर गरमाई सियासत, केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने बताया एहसान फरामोश

नई दिल्ली – कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी के एक विवादित बयान को लेकर राजनीति गरमा गई है। राहुल के दक्षिण भारत और उत्तर भारत की तुलना करने वाले बयान पर भाजपा हमलावर हो गई है। अमेठी की सांसद और केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने राहुल गांधी पर तीखा हमला बोलते हुए उन्हें एहसान फरामोश बताया है। स्मृति ईरानी ने कहा कि राहुल जिस उत्तर भारत पर सवाल खड़े कर रहे है उन्हें याद रखना चाहिए कि सोनिया गांधी भी यहां से ही सांसद है।

क्या है राहुल का विवादित बयान –
राहुल गांधी ने त्रिवेंद्रम में आयोजित एक कार्यक्रम में कहा था कि मैं 15 साल तक उत्तर भारत में सांसद था। मुझे एक अलग तरह की राजनीति की आदत हो गई थी। मेरे लिए केरल आना बेहद नया था क्योंकि मुझे अचानक लगा कि यहां के लोग मुद्दों में दिलचस्पी रखते है तथा जमीनी तौर पर मुद्दों के विस्तार में जाने वाले है। राहुल गांधी के इस बयान स्मृति ईरानी ने उन्हें आड़े हाथों लिया है। केंद्रीय मंत्री ने ट्वीट पर करके लिखा एहसान फरामोश।

बयान पर स्मृति ईरानी का हमला –
स्मृति ईरानी ने राहुल पर निशाना साधते हुए कहा कि यह अमेठी जनता का अपमान है। अमेठी की जनता मेरा परिवार है और मेरे परिवार का अपमान करके माफी से काम नही चलता। उन्होंने कहा कि जब गांधी परिवार अमेठी आएगा तब उन्हे अमेठी की जनता अपने अपमान का करारा जवाब देगी। साथ ही उन्होंने कहा कि राहुल गांधी को अमेठी की जनता ने नकार दिया तो वे वायनायड पहुंचे और वहां पहुंच कर अमेठी की जनता का अपमान कर रहे है।
बता दें कि ईरानी ने पिछले आम चुनाव में गांधी को उनके पारिवारिक गढ़ माने जाने वाली अमेठी में हराया था लेकिन वह केरल में वायनाड से जीत गए थे। वह वायनाड से भी चुनाव लड़े थे। उन्होंने कहा कि राहुल गांधी जिस उत्तर भारत का अपमान कर रहे है वो भूल रहे है कि उसी इलाके से उनकी माता सोनिया गांधी भी सांसद है ऐसे में राहुल गांधी ने जो बात कही वो माफ करने लायक ही नही है।

मामले पर क्या बोले योगी –
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने राहुल गांधी के दक्षिण भारत बनाम उत्तर भारत वाले बयान पर तीखा हमला बोला। सीएम योगी ने ट्वीट करके लिखा ‘राहुल’ सनातन आस्था की तपस्थली केरल से लेकर प्रभु श्री राम की जन्मस्थली उत्तर प्रदेश तक सभी लोग आपको समझ चुके हैं। विभाजनकारी राजनीति आपका राजनीतिक संस्कार है। हम उत्तर या दक्षिण में नही बल्कि पूरे भारत को माता के स्वरूप में देखते है। भाजपा के कई नेताओं ने राहुल पर निशाना साधते हुए उन पर आरोप लगाया कि वे अवसरवादी है जबकि उन्होंने और उनके परिवार के सदस्यों ने उत्तर प्रदेश में अमेठी से कई चुनाव जीते है।भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा ने एक ट्वीट में कहा कुछ दिन पहले वह पूर्वोत्तर मे थे, भारत के पश्चिमी हिस्से के खिलाफ जहर उगल रहे थे। आज वह दक्षिण में उत्तर के खिलाफ जहर उगल रहे है। विभाजन और शासन की राजनीति काम नही करेगी ‘राहुल गांधीजी’ लोगों ने इस राजनीति को खारिज कर दिया है।

श्रीमद्भागवत कथा से और भक्तिमय होगा वृंदावन कुंभ, 27 को पहला शाही स्‍नान

Previous article

कल से लगेगी कोरोना की बूस्टर डोज, जानिए क्या है पूरा शेड्यूल

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.