एसपीजी सहित 2000 पुलिस कर्मी है समिट की सुरक्षा में तैनात

देहरादून। उत्तराखंड में 7 और 8 अक्टूबर से इन्वेस्टर समिट सुरक्षा का आयोजन होने जा रहा है जिसका उद्घाटन खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी करने वाले हैं। इस पुरे आयोजन में देश और विदेशो से बड़े उद्योगपति और राजनयिक समेत केंद्र के कई मंत्री शामिल होंगे जिस लिहाज़ से यह आयोजन पहले बड़ा आयोजन होगा। जिसके के लिए उत्तराखंड पुलिस के लिए भी यह बड़ी जिम्मेदारी होगी। हालाँकि कई बड़े बड़े आयोजन को उत्तराखंड पुलिस आयोजित कर चुकी है लेकिन इस बार आयोजन की सुरक्षा व्यवस्था की एक बड़ी जिम्मेदारी पुलिस विभाग के कन्धों पर होगी।

उत्तराखंड पुलिस इस पुरे आयोजन में कोई भी चूक नहीं चाहती है

साथ ही इन्वेस्टर समिट 2018 का भव्य आयोजन का आग़ाज़ महाराणा प्रताप स्पोर्ट्स स्टेडियम में होने जा रहा है। जिसकी तैयारी को लेकर उत्तराखंड के सभी विभाग आयोजन को सफल बनाने में कोई कसर नहीं छोड़ रहे हैं। वहीँ इस तरह के आयोजन में सबसे बड़ी बात सामने आती है सुरक्षा व्यवस्था की जो की उत्तराखंड पुलिस के डीजीपी खुद मौके पर पहुँच का मुआइना कर रहे हैं। उत्तराखंड पुलिस इस पुरे आयोजन में कोई भी चूक नहीं चाहती है।

अधिकारी स्टेडियम में डेरा डाले हुए हैं

बता दें कि व्यवस्था को बनाने के लिए करीब 1500 कांस्टेबल समेत एसपीज़ ,,राजपत्रित अधिकारी व् इंस्पेक्टर भारी संख्या में मौजूद रहेगी। समिट में आने वाली सभी वीवीआईपीज की सुरक्षा व्यवस्था प्रोटोकॉल के आधार पर की जा रही है। आस पास के सभी छेत्रो को जीरो जोन में रखा जायेगा। कई दिन पहले ही पीएम की सुरक्षा के लिए एसपीजी के अधिकारी स्टेडियम में डेरा डाले हुए हैं।

स्टेडियम में सुरक्षा व्यवस्था का जायजा ले रहे हैं

वहीं इस पुरे आयोजन की सुरक्षा व्यवस्था को लेकर उत्तराखंड पुलिस में डीजीपी अनिल के रतूड़ी खुद बार स्टेडियम में सुरक्षा व्यवस्था का जायजा ले रहे हैं। और सुरक्षा व्यवस्था में कोई भी चूक न हो दिशा निर्देश भी दे रहे हैं। उनका कहना है की सभी सुरक्षा एजेंसियों को अलर्ट कर दिया गया है। ख़ुफ़िया विभाग को भी सक्रीय कर दिया गया है,और लगातार हम रिहर्सल भी कर रहे हैं।