November 30, 2022 8:33 am
Breaking News featured देश

हिंसा के बाद एक्शन में आई दिल्ली पुलिस, इन 37 किसान नेताओं पर हुई FIR

WhatsApp Image 2021 01 28 at 2.26.19 PM हिंसा के बाद एक्शन में आई दिल्ली पुलिस, इन 37 किसान नेताओं पर हुई FIR

नई दिल्ली। राजधानी दिल्ली में गणतंत्र दिवस के मौके पर जिस तरह टैक्टर रैली के नाम पर जो बवाल हुआ पूरे देश ने देखा। दिल्ली में हिंसा को लेकर पुलिस का एक्शन जारी है। दिल्ली पुलिस ने 37 किसान नेताओं पर गंभीर धाराओं में एफआईआर दर्ज की है। राकेश टिकैत समेत कई किसान नेताओं को लुक आउट नोटिस थमा दिया गया है। वहीं दो संगठनों ने अपना आंदोलन वापस ले किया है। वहीं कुछ आंदोलनकारी खुद ही वापस जा रहे हैं।

 

आपको बतादें कि  जब राजपथ पर पूरी दुनिया भारत की ताकत को सलाम कर रही थी, जब राजधानी के आसमान में राफेल का शोर दुनिया के सामने भारत की ताकत को दर्ज कर रहा था उसी समस राजपथ से कुछ ही दूर कानून के रखवालों पर टैक्टर चढ़ाया जा रहा था। टैक्टर परेड में हुई हिंसा को लेकर किसान का आंदोलन लगातार बैकफुट पर आ रहा है। पुलिस ने किसान नेताओं पर कार्रवाई करते हुए 37 लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की है।

 

इन 37 किसान नेताओं पर एफआईआर-

1. डॉक्टर दर्शन पाल, बीकेयू क्रांतिकारी दर्शनपाल ग्रुप.
2. कुलवंत सिंह संधू, जम्हूरी किसान सभा पंजाब.
3. बूटा सिंह बुर्जगिल, भारतीय किसान सभा, धकोंडा.
4. निर्भय सिंह धुड़ीके, कीर्ति किसान यूनियन, धुड़ीके ग्रुप.
5. रुल्दू सिंह, पंजाब किसान यनियन, रुल्दू ग्रुप.
6. इंदरजीत सिंह, किसान संघर्ष कमेटी, कोट बुद्धा ग्रुप.
7. हरजिंदर सिंह टांडा, आजाद किसान संघर्ष कमेटी.
8. गुरबख्श सिंह, जय किसान आंदोलन.
9. सतनाम सिंह पन्नू, किसान मजदूर संघर्ष समिति, पिड्डी ग्रुप.
10. कंवलप्रीत सिंह पन्नू, किसान संघर्ष कमेटी पंजाब.
11. जोगिंदर सिंह उग्राहा, भारतीय किसान यूनियन उग्राहां.
12. सुरजीत सिंह फूल, भारतीय किसान यूनियन क्रांतिकारी.
13. जगजीत सिंह डालेवाल, भारतीय किसान यूनियन, सिद्धूपुर.
14. हरमीत सिंह कड़ियां, बीकेयू, कड़ियां.
15. बलबीर सिंह राजेवाल, भारतीय किसान यूनियन राजेवाल.
16. सतनाम सिंह साहनी, भारतीय किसान यूनियन, दोआबा.
17. बोघ सिंह मानसा, भारतीय किसान यूनियन मानसा.
18. बलविंदर सिंह औलख, माझा किसान कमेटी.
19. सतनाम सिंह बेहरू, इंडियन फार्मर एसोसिएशन.
20. बूटा सिंह शादीपुर, भारतीय किसान मंच.
21. बलदेव सिंह सिरसा, लोक भलाई इंसाफ वेलफेयर सोसायटी.
22. जगबीर सिंह जाड़ा, दोआबा किसान समिति.
23. मुकेश चंद्रा, दोआबा किसान संघर्ष कमेटी.
24. सुखपाल सिंह डफ्फर, गन्ना संघर्ष कमेटी.
25. हरपाल सिंह सांघा, आजाद किसान कमेटी दोआब.
26. कृपाल सिंह नाथूवाला, किसान बचाओ मोर्चा.
27. हरिंदर सिंह लाखोवाल, भारतीय किसान यूनियन लाखोवाल.
28. प्रेम सिंह भंगू, कुलहिंद किसन फेडरेशन.
29. गुरनाम सिंह चडूनी, भारतीय किसान यूनियन चडूनी.
30. राकेश टिकैट, भारतीय किसान यूनियन.
31. कविता कुमगुटी, महिला किसान अधिकार मंच.
32. रिषिपाल अंबावाटा, भारतीय किसान यूनियन अंबावाटा.
33. वीएम सिंह, ऑल इंडिया किसान संघर्ष कोऑर्डिनेशन कमेटी.
34. मेधा पाटेकर, नर्मदा बचाओ.
35. योगेंद्र यादव, स्वराज इंडिया.
36. अवीक साहा, जन किसान आंदोलन, स्वराज इंडिया.
37. प्रेम सिंह गहलोत, ऑल इंडिया किसान सभा

 

दिल्ली पुलिस की इस एफआईआर में आपराधिक षड्यंत्र, डकैती, डकैती के दौरान घातक हथियार का प्रयोग और हत्या का प्रयास जैसी गंभीर धाराओं समेत कुल 13 धाराएं लगाई गई हैं।

 

ट्रैक्टर परेड में हुई हिंसा के बाद ही किसान संगठनों ने अब एक फरवरी को निकलने वाले संसद मार्च को रद्द कर दिया है, जबकि 30 जनवरी को उपवास रखने की बात कही है। दिल्ली पुलिस हिंसा को लेकर लगातार एक्शन ले रही है और अबतक दर्जनों एफआईआर दर्ज की जा चुकी हैं।

Related posts

69000 शिक्षक भर्ती: अभ्यर्थियों का उग्र प्रदर्शन, डिप्टी सीएम के आवास का किया घेराव

Aditya Mishra

व्‍यापारियों का ये एलान जान लें, वरना नहीं मिलेगा सामान

sushil kumar

अभिनंदन की तरह मूंछे रखने से मजबूत हुई इस पुलिसवाले की देशभक्ति-भावना

bharatkhabar