October 1, 2022 10:05 am
Breaking News featured देश

कार डिजाइनर दिलीप छाबड़िया को पुलिस ने किया गिरफ्तार, कार रजिस्ट्रेशन का रैकेट चलाने का आरोप

c28cc173 93e9 4d79 9663 1136f41d9af7 कार डिजाइनर दिलीप छाबड़िया को पुलिस ने किया गिरफ्तार, कार रजिस्ट्रेशन का रैकेट चलाने का आरोप

मुबंई। देश में आए दिन धोखेधड़ी के मामले सामने आते रहते हैं। शतिरों द्वारा धोखाधड़ी करने के लिए नए-नए तरीके अपनाए जाते हैं। आज के दौर में धोखाधड़ी के मामले ज्यादा बढ़ गए हैं। इसी बीच मुबंई से बड़ी खबर सामने आ रही है। मुबंई पुलिस ने भारत के सबसे पॉपुलर कार डिजाइनर और कार मोडिफिकेशन स्टूडियो ‘डीसी डिजाइन’ के संस्थापक दिलीप छाबड़िया को धोखाधड़ी के मामले में गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने उनके पास से लगभग 75 लाख रुपए की कीमत वाली एक हाईएंड स्पोर्ट कार को जब्त किया है। इसके साथ ही दिलीप छाबड़िया पर मल्टीपल कार रजिस्ट्रेशन का रैकेट चलाने का आरोप लगा है। पुलिस ने दिलीप छाबड़िया के खिलाफ कई धाराओं के तहत एफआईआर दर्ज कर ली है। मुंबई पुलिस के ज्वाइंट कमिश्नर इस मामले की पुष्टि की है।

इन धाराओं में दर्ज हुआ मुकदमा-

बता दें कि दिलीप छाबड़िया देश के जाने-माने कार डिजाइनर हैं। उन्होंने कई मशहूर हस्तियों, विशेषकर बॉलीवुड हस्तियों की वैनिटी वैन को डिजाइन किया है। वास्तव में, पांच शिकायतकर्ताओं में से एक एक्ट्रेस है जिसने दिलीप छाबड़िया पर धोखाधड़ी और जालसाजी का आरोप लगाया है। पुलिस ने उनके पास से लगभग 75 लाख रुपए की कीमत वाली एक हाईएंड स्पोर्ट कार को जब्त किया है। ये हाईएंड स्पोर्ट कार इंदरमल रमानी के नाम से रजिस्टर है, जोकि तमिलनाडु क्षेत्रीय परिवहन कार्यालय में इंद्रमल रमानी के नाम से रजिस्टर है। इसके साथ ही पुलिस ने दिलीप छाबड़िया के खिलाफ धारा 420, 465, 467, 468, 471, 120 (बी) और 34 के तहत एफआईआर दर्ज किया है। मुंबई पुलिस के ज्वाइंट कमिश्नर इस मामले की पुष्टि की है। वह अभी मामले की और गहन जांच करेंगे।

दिलीप छाबड़िया को मुंबई पुलिस मुख्यालय में रखा गया-

इसके साथ ही पुलिस ने कहा कि गिरफ्तारी के बाद दिलीप छाबड़िया को मुंबई पुलिस मुख्यालय में रखा गया है। उन्होंने मामले में धोखाधड़ी, जालसाजी, विश्वासघात और आपराधिक साजिश की प्राथमिकी दर्ज की है और इस मामले में जल्द ही और गिरफ्तारियां होने की संभावना है। सूत्रों ने कहा कि पुलिस एक ऐसे रैकेट की जांच कर रही है जहां पंजीकरण के दस्तावेज जाली थे और कई वाहनों का पंजीकरण किया जाता था।

 

Related posts

पाकिस्तान के साथ सीमा पार गोलाबारी में भारतीय जवान हुआ शहीद..

Mamta Gautam

जेल में बंद शशिकला का अब AIADMK से नहीं है कोई नाता

shipra saxena

विधानसभा चुनाव से पहले यूपी में हुई सियासत तेज, अनिल राजभर ने ओपी राजभर पर बोला हमला

Aman Sharma