पीएम ने दी मुंबईवासियों को नए एयरपोर्ट की सौगात,एविएशन देगा टूरिज्म को बल

मुंबई। मुंबईवासियों को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नए अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे की सौगात देते हुए नवी मुंबई अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे की आधारशीला रखी। इस दौरान उन्होंने सभा को संबोधित करते हुए कहा कि विश्व व्यापार का लाभ तब होता है जब विश्व के साथ जुड़ने के लए आपके पास विश्व जैसा इंफ्रास्ट्रक्चर हो। उन्होंने कहा कि भारत एक भाग्यवान देश रहा है क्योंकि इसकी सामूहीक शक्ति पहचानने वाले पहले राष्ट्रपुरुष छत्रपति शिवाजी महाराज थे। पीएम ने कहा कि एविएशन सेक्टर की ताकत देश के टूरिज्म को बल देगी। नवी मुंबई में बनने जा रहे ग्रीन फील्ड एयरपोर्ट को एविएशन सेक्टर से जोड़ते हुए पीएम ने कहा कि एविएशन सेक्टर काफी तेज गति से आगे बढ़ रहा है।

पीएम ने कहा कि जिस तेजी से एविएशन सेक्टर का ग्रोथ हो रहा है, उसकी आवश्यकता के तहत हम हम एविएशन सेक्टर के इंफ्रास्ट्रक्चर में काफी पीछे चल रहे हैं। हम कई वर्षों पहले यानी की 80 के दशक में  ऐसा सुनते थे कि 21वीं सदी आ रही है, 21वीं सदी आ रही है, लेकिन उस शब्द से आगे ही नहीं बढ़े। अगर हमने उस समय ये सोचा होता कि 21वीं सदी का एविएशन सेक्टर कैसा होगा, तो हमे इतनी देर नहीं होती। आजादी के बाद किसी सरकार ने एविएशन पॉलिसी नहीं लाई। पीएम बोले के  एक जमाना था, जब अटल जी की सरकार थी, हवाईजहाज पर राजा-महाराजाओं के चित्र होते थे।
उस समय मैंने एविएशन मिनिस्टर से कहा कि इस पर राजा महाराजाओं के चित्र क्यों लगाए गए हैं. अब तो आपको लक्ष्मण के कार्टून में जो ‘कॉमन मैन’ होता है उसकी तस्वीर लगानी चाहिए, वो हवाईजहाज में बैठता है। बाद में अटल जी की सरकार के समय शुरू भी किया गयाय़ हमने कहा क्यों न इस देश में जो ‘हवाई चप्पल’ पहनता है वह भी हवाईजहाज में उड़ना चाहिएय़ हमने उड़ान योजना लाई और  देश में 100 से ज्यादा नए एयरपोर्ट बनाना या पुराने पड़े एयरपोर्ट को ठीक करना और कार्यरत करने की दिशा में हम काम कर रहे हैं।पीएम ने कहा कि आपको जानकर खुशी होगी कि हमारे देश में इतने वर्षों से जो हवाई जहाज खरीदे गए, चलाए गए. आज हमारे देश में करीब-करीब 450 हवाई जहाज सेवा में हैं।