featured देश

PM Modi: वैक्सीनेशन ‘सबका साथ, सबका विकास, सबका प्रयास’

modi PM Modi: वैक्सीनेशन 'सबका साथ, सबका विकास, सबका प्रयास'

PM Narendra modi nation address: कोरोना काल में पीएम मोदी का ये 10वां संबोधन है। इससे पहले बीते दिन भारत ने 100 करोड़ डोज कोरोना टीका लगाने का लक्ष्य हासिल किया है। बता दें कि आने वाले समय में दिवाली और छठ जैसे त्योहार आने वाले हैं. माना जा रहा है कि पीएम मोदी अपने संबोधन में आगामी त्योहारों पर लोगों को कोरोना को लेकर आगाह कर सकते हैं।

21 अक्टूबर को, भारत ने 1 बिलियन कोविड- 19 टीकाकरण के लक्ष्य को पूरा किया। यह उपलब्धि देश के प्रत्येक व्यक्ति की है। मैं इस उपलब्धि के लिए हर नागरिक को बधाई देता हूं- पीएम मोदी

भारत का टीकाकरण कार्यक्रम ‘सबका साथ, सबका विकास, सबका प्रयास’ का एक अच्छा उदाहरण है।– पीएम मोदी

100 करोड़ टीकाकरण का निशान सिर्फ एक संख्या नहीं है, बल्कि यह इतिहास का एक नया अध्याय है, एक वसीयतनामा है कि भारत एक कठिन लक्ष्य को सफलतापूर्वक प्राप्त कर सकता है। यह दर्शाता है कि देश अपने लक्ष्यों की पूर्ति के लिए कड़ी मेहनत करता है।– पीएम मोदी

आज कई लोग भारत के वैक्सीनेशन प्रोग्राम की तुलना दुनिया के दूसरे देशों से कर रहे हैं। भारत ने जिस तेजी से 100 करोड़ का आंकड़ा पार किया, उसकी सराहना भी हो रही है।– पीएम मोदी

जब 100 साल की सबसे बड़ी महामारी आई, तो भारत पर सवाल उठने लगे। क्या भारत इस वैश्विक महामारी से लड़ पाएगा? भारत दूसरे देशों से इतनी वैक्सीन खरीदने का पैसा कहां से लाएगा? भारत को वैक्सीन कब मिलेगी? सबको साथ लेकर देश ने ‘सबको वैक्सीन-मुफ़्त वैक्सीन’ का अभियान शुरू किया। गरीब-अमीर, गांव-शहर, दूर-सुदूर, देश का एक ही मंत्र रहा कि अगर बीमारी भेदभाव नहीं करती तो वैक्सीन में भी भेदभाव नहीं हो सकता! इसलिए ये सुनिश्चित किया गया कि वैक्सीनेशन अभियान पर VIP कल्चर हावी न हो।– पीएम मोदी

भारत का टीकाकरण कार्यक्रम विज्ञान आधारित, विज्ञान आधारित और विज्ञान आधारित था।– पीएम मोदी

भारतीय कंपनियों को रिकॉर्ड निवेश मिल रहा है। भारतीय युवाओं को मिल रहे हैं रोजगार के नए अवसर, स्टार्टअप स्पेस में हम नए यूनिकॉर्न देख रहे हैं।– पीएम मोदी

वैक्सीन के करतब के पीछे 130 करोड़ भारतीयों की कर्तव्यपरायणता, यह सफलता भारत और हर भारतीय की है।– पीएम मोदी

पीएम मोदी ने कहा- भारत ने अपने नागरिकों को 100 करोड़ वैक्सीन डोज बिना पैसा लिए लगाई है। इशका एक प्रभाव ये भी होगा कि अब दुनिया भारत को कोरोना से ज्यादा सुरक्षित मानेगी।– पीएम मोदी

आज हम कह सकते हैं कि भारत बड़े लक्ष्य निर्धारित करना और उन्हें हासिल करना जानता है। लेकिन हमें सावधान रहने की जरूरत है, टीका लगवाने पर भी COVID के खिलाफ सावधानी बरतें।– पीएम मोदी

देश के नागरिकों से मास्क पहनने को एक समान आदत के रूप में मानने के लिए कहूंगा।– पीएम मोदी

पहले इस देश में, उस देश में बने के बारे में केवल मंत्र थे, लेकिन आज हर कोई ‘मेड इन इंडिया’ के बारे में बात कर रहा है।– पीएम मोदी

फेस्टिव सीजन से पहले देशवासियों को कोरोना सुरक्षा को लेकर सतर्क किया है और त्योहारों के दौरान सावधान रहे। देश बड़े लक्ष्य तय करना और उन्हें हासिल करना जानता है। लेकिन, इसके लिए हमें सतत सावधान रहने की जरूरत है। हमें कोरोना के प्रति लापरवाह नहीं होना है।– पीएम मोदी

कवच कितना ही उत्तम हो, कवच कितना ही आधुनिक हो, कवच से सुरक्षा की पूरी गारंटी हो, तो भी, जब तक युद्ध चल रहा है, हथियार नहीं डाले जाते। – पीएम मोदी 

महामारी के खिलाफ हमारी रक्षा की पहली पंक्ति सार्वजनिक भागीदारी थी, जिसके हिस्से के रूप में लोगों ने दीया जलाया, थाली बजाई। कुछ लोगों ने सवाल किया था कि “क्या यह हमें बीमारी से छुटकारा दिलाने में मदद करेगा”, लेकिन इसने एकता दिखाई।– पीएम मोदी

 

 

 

Related posts

2 मार्च 2022 का राशिफल: सूर्य की तरह चमकेगी किस्मत, जानिए आज का राशिफल

Neetu Rajbhar

नोरा फतेही ने सिर और कमर पर तलवार रखकर किया डांस, विडियो हुई वायरल

Samar Khan

जोगी की पार्टी के 2 विधायकों ने अपनाये बागी तेवर, बीजेपी को समर्थन का किया विरोध

Samar Khan