September 30, 2022 3:37 am
Breaking News featured देश

‘कुछ नौजवान पत्थर मारते हैं, कुछ पत्थर काटकर विकास का रास्ता बनाते हैं’

58585 'कुछ नौजवान पत्थर मारते हैं, कुछ पत्थर काटकर विकास का रास्ता बनाते हैं'

उधमपुर। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज उधमपुर में देश की सबसे लंबी सुरंग के उद्घाटन के बाद बटर बालियां में जनता को संबोधित किया। संबोधन के शुरुआत में पीएम ने कहा कि मैने ही नहीं आप सब भी मिलकर सुरंग का उद्घाटन करें, लोग अपने फोन निकाल लें और फ्लैश ऑन करके भारत माता की जयकार करें।

पीएम के संबोधन की मुख्य बातें-

  • जम्मू-कश्मीर में विकास की ओर बड़ा कदम, टनल के इस्तेमाल से होगी हिमालय और पर्यावरण की रक्षा
  • कश्मीरियत इंसानियत जम्हूरियत के मूलमंत्र को लेकर हम कश्मीर को विकास की नई ऊंचाइयों पर लेकर जाएंगे
  • विकास हमारा मंत्र है जनभागीदारी हमारा रास्ता है
  • खून के खेल से किसी का भला नहीं है
  • खून का खेल 40 साल में किसी का भला नहीं कर पाया है। अगर पर्यटन पर ध्यान दिया होता तो दुनिया कश्मीर आना चाहती
  • राज्य में एक तरफ टूरिज्म है और दूसरी तरफ टेररिज्म है, अपने भविष्य का फैसला आप स्वयं करें’
  • प्रति व्यक्ति अय बढ़ान के लिए सबसे उपयुक्त राज्य है जम्मू-कश्मीर
  • एक तरफ भटके हुए नौजवान पत्थर फेंकने में लगे हैं वहीं दूसरी तरफ पत्थर काट कर कश्मीर का भाग्य बदलने में लगे हैं
  • चेनानी-नाशरी सुरंग सिर्फ एक सुरंग नहीं बल्कि जम्मू के विकास की एक छलांग है
  • लोगों ने फोन की लाइट जला लगाए ‘मोदी-मोदी’ के नारा

पीएम मोदी ने कहा कि कश्मीर के लोगों के पास अपार संभावनाएं हैं। राज्य में इतनी शक्ति है कि अगर चाह लें तो प्रति व्यक्ति आय बढ़ सकती है। मोदी ने कहा कि राज्य में एक तरफ टूरिज्म है और दूसरी तरफ टेररिज्म है, आपको आपके भविष्य का फैसला स्वयं करना है। पीएम ने कहा कि जम्मू के लोग पत्थर की ताकत को समझें, एक तरफ भटके हुए नौजवान पत्थर फेंकने में लगे हैं वहीं दूसरी तरफ पत्थर काट कर कश्मीर का भाग्य बदलने में लगे हैं। पीएम ने कहा कि भविष्य में सरकार के पास ऐसे ही 9 और सुरंगों को बनाने की योजना है।

Related posts

पुतिन के साथ शिखर वार्ता के लिए फिनलैंड के हेलसिंकी पहुंचे अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप

rituraj

अब प्‍लेटफॉर्म टिकट के लिए नहीं लगना पड़ेगा लाइन, ऐसे आसानी से करें बुक

Shailendra Singh

परिवहन शिक्षा में विकास के लिए सहयोग पर भारत-रूसी संघ के बीच समझौता ज्ञापन को मंजूरी

mahesh yadav