featured देश

इस्तीफों के बाद पूरा हुआ मोदी मंत्रिमंडल का विस्तार, इन मंत्रियों ने ली शपथ

MODI CABINET इस्तीफों के बाद पूरा हुआ मोदी मंत्रिमंडल का विस्तार, इन मंत्रियों ने ली शपथ

नई दिल्ली: मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल के पहले मंत्रिमंडल का विस्तार हो चुका है। 43 मंत्रियों को गोपनीयता और पद की शपथ दिलाई गई है। जिसमें से 37 नए चेहरों को जगह दी गई है। आइए जानते हैं किन नेताओं ने मंत्री पद की शपथ ली।

jyotiraditya scindia इस्तीफों के बाद पूरा हुआ मोदी मंत्रिमंडल का विस्तार, इन मंत्रियों ने ली शपथ

ज्योतिरादित्य सिंधिया ने ली शपथ

मध्य प्रदेश के ग्वालियर से आने वाले ज्योतिरादित्य सिंधिया को मोदी मंत्रिमंडल में शामिल किया गया है। ग्वालियर के राजघराने से संबंध रखते हैं। उनके पिता माधवराव सिंधिया थे। 2001 में पिता के निधन के तीन महीने बाद ज्योतिरादित्य सिंधिया कांग्रेस में शामिल हो गए। पिता की मौत के बाद खाली हुई गुना लोकसभा सीट से 2002 में चुनाव जीता। उसके बाद 2004, 2009 (UPA सरकार) और 2014 में भी सांसद निर्वाचित हुए। 2019 लोकसभा चुनाव में अपने ही पूर्व निजी सचिव केपीएस यादव से हारे। कम्युनिकेशन, कॉमर्स, पावर और इंडस्ट्री जैसे मंत्रालयों का अनुभव है। 2007 में उन्हें संचार और सूचना तकनीक मामलों का मंत्री बनाया गया। 2009 में वे वाणिज्य व उद्योग मामलों के राज्य मंत्री बने 2014 में ऊर्जा मंत्री बने। मार्च 2020 में कांग्रेस छोड़कर बीजेपी में शामिल हुए थे।

एल मुरुगन और निशित प्रमाणिक ने ली शपथ

तमिलनाडु से आने वाले 44 के एल मुरुगन को भी इस बार मोदी मंत्रिमंडल में शामिल किया गया है। वे राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग के उपाध्यक्ष रहे हैं। उन्होंने मद्रास यूनिवर्सिटी से एलएलएम और पीएचडी किया है। एल मुरुगन तमिलनाडु में बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष हैं। एल मुरुगन को राज्य मंत्री के तौर पर शपथ दिलाई गई। उनके बाद राष्ट्रपति ने निशित प्रमाणिक को शपथ दिलाई। 45 साल के निशित प्रमाणिक पश्चिम बंगाल के कूच बिहार से बीजेपी सांसद हैं। निशित प्रमाणिक ने राज्यमंत्री के तौर पर शपथ ली। इसके साथ ही दूसरे कैबिनेट विस्तार का समारोह पूरा हुआ।

शांतनु ठाकुर, मंजूपारा महेंद्रभाई और जॉन बारला ने ली शपथ

38 साल के शांतनु ठाकुर ने भी पद और गोपनीयता की शपथ ली। शांतनु पश्चिम बंगाल के बनगांव से पहली बार सांसद बने हैं। इनकी मतुआ समुदाय के सीनियर नेताओं में गिनती होती है। शांतनु ठाकुर ने राज्यमंत्री के तौर पर शपथ ली। इनके बाद मंजूपारा महेंद्रभाई ने शपथ ली। 52 साल के मंजूपारा गुजरात के सुरेंद्रनगर से पहली बार सांसद बने हैं। मंजूपारा पेशे से कार्डियोलोजिस्ट, मेडिसिन प्रोफेसर हैं. आज जॉन बारला को भी मंत्री पद की शपथ दिलाई गई। 45 साल के जॉन बारला बंगाल के अलीपुरद्वार से पहली बार सांसद बने हैं। उन्होंने चाय बागान में काम करने वालों के लिए काम किया है। जॉन ने राज्यमंत्री के तौर पर शपथ ली।

राजकुमार रंजन सिंह, भारती प्रवीण पवार और बिशेश्वर टुडू ने ली शपथ

राजकुमार रंजन सिंह की उम्र 68 साल है और वो पहली बार मणिपुर से लोकसभा सांसद बने हैं। राजकुमार को भी राष्ट्रपति ने मंत्रिपद की शपथ दिलाई। राजकुमार 4 दशक तक भूगोल के प्रोफेसर रहे हैं। राजकुमार को राज्यमंत्री पद की शपथ दिलाई गई। उनके बाद 42 साल की भारती प्रवीण पवार को शपथ दिलाई गई, जो कि महाराष्ट्र से पहल बार लोकसभा सांसद बनीं। भारती नासिक ज़िला परिषद की सदस्य भी रह चुकी हैं। इन्होंने नासिक मेडिकल कॉलेज से सर्जरी में एमबीबीएस किया है। साथ ही 56 साल के आदिवासी समाज से ताल्लुक रखने वाले बिशेश्वर टुडू को भी राष्ट्रपति द्वारा पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई गई। टुडू ओडिशा के मयूरभंज से बीजेपी के सांसद हैं। टुडू ने भी राज्यमंत्री के तौर पर शपथ ली।

प्रतिमा भौमिक, सुभाष सरकार और भागवत किशनराव करद ने ली शपथ

52 की प्रतिमा भौमिक त्रिपुरा से पहली बार बीजेपी की सांसद बनीं। प्रतिमा ने त्रिपुरा यूनिवर्सिटी से बायो साइंस में ग्रेजुशन किया है। प्रतिमा भौमिक ने पद और गोपनीयता की शपथ ली। प्रतिमा को राष्ट्रपति ने राज्यमंत्री के तौर पर शपथ ग्रहण करवाया। इसके अलावा समारोह में 67 साल के पश्चिम बंगाल के बांकुरा से सांसद सुभाष सरकार को भी मंत्री पद की शपथ दिलाई गई। सुभाष 5 दशक से रामकृष्ण मिशन से जुड़े रहे हैं। खास बात ये है कि सुभाष ने कलकत्ता यूनिवर्सिटी से एमबीबीएस किया है। इन्हें भी राज्यमंत्री के तौर पर शपथ दिलाई गई। उनके बाद महाराष्ट्र से राज्यसभा सांसद 64 साल के भागवत किशनराव करद को भी आज पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई गई। भागवत औरंगाबाद नगर निगम के मेयर भी रह चुके हैं। वे पेशे से डॉक्टर हैं।

देवू सिंह चौहान, भगवंत खुबा और कपिल मोरेश्वर

56 साल के गुजरात के खेड़ा से बीजेपी सांसद देवू सिंह चौहान को भी मोदी मंत्रिमंडल में शामिल किया जा रहा है। उन्होंने पद और गोपनीयता की शपथ ली। देवू ऑल इंडिया रेडियो में इंजीनियर रह चुके हैं। देवू सिंह चौहान को राज्यमंत्री पद की शपथ दिलाई गई। इनके अलावा राष्ट्रपति कोविंद ने आज के कैबिनेट विस्तार में 54 साल के कर्नाटक के बीदर से बीजेपी सांसद भगवंत खुबा को भी शपथ दिलाई। खुबा लगातार दूसरी बार सांसद चुने गए हैं। खुबा को राज्यमंत्री पद की शपथ दिलाई गई। 60 साल के महाराष्ट्र के भिवंडी से बीजेपी सांसद कपिल मोरेश्वर पाटिल ने भी शपथ ली। कपिल भी दूसरी बार सांसद बने हैं। उन्होंने मुंबई यूनिवर्सिटी से बीए किया है। कपिल को राज्यमंत्री की शपथ दिलाई गई।

अजय भट्ट, बीएल वर्मा और अजय कुमार को दिलाई गई शपथ

60 साल के नैनीताल-ऊधमसिंह सीट से लोकसभा सांसद अजय भट्ट ने पद और गोपनीयता की शपथ ली। अजय ने राज्यमंत्री पद की शपथ ली। वो उत्तराखंड सरकार में मंत्री रह चुके हैं। उनके बाद 59 साल के यूपी से बीजेपी के राज्यसभा सांसद बनवारी लाल वर्मा ने राज्यमंत्री की शपथ ली। बीएल वर्मा बीजेपी के ओबीसी मोर्चा के उपाध्यक्ष हैं। साथ में आज 60 साल के यूपी के खीरी से बीजेपी सांसद अजय कुमार ने मंत्री पद की शपथ ली। अजय पिछले दो बार से लगातार सांसद हैं। उन्हें राज्य मंत्री पद की शपथ दिलाई गई।

अन्नापूर्णा देवी, ए नारायणस्वामी, कौशल किशोर ने ली शपथ

झारखंड के कोडरमा से बीजेपी सांसद अन्नापूर्णा देवी को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई। 51 साल की अन्नपूर्णा 2019 में पहली बार सांसद चुनी गईं। 4 बार बिहार और झारखंड की विधायक रह चुकी हैं। उनके बाद राष्ट्रपति ने ए नारायणस्वामी को पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई। उन्होंने राज्यमंत्री की शपथ ली। यूपी के मोहनलाल गंज से बीजेपी सांसद कौशल किशोर ने भी शपथ ली। 61 साल के कौशल किशोर अमित शाह के करीबी माने जाते हैं।

भानु प्रताप मेहता, दर्शना विक्रम जरदोश और मीनाक्षी लेखी ने ली शपथ

बुंदेलखंड के दलित समाज से आने वाले 63 साल के भानु प्रताप मेहता को भी इस बार नरेंद्र मोदी की मंत्रिमंडल में शामिल किया जा रहा है। उन्हें राष्ट्रपति ने पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई। भानु यूपी के जालौन से बीजेपी के सांसद हैं। 2019 में पांचवीं बार सांसद बने हैं। उनके अलावा 60 साल की नेता दर्शना विक्रम जरदोश ने भी मंत्रिपद की शपथ ली। जरदोश गुजरात के सूरत से बीजेपी सांसद हैं। उन्होंने सूरत के कॉलेज से पढ़ाई की है। साथ ही मीनाक्षी लेखी ने भी पद और गोपनीयता की शपथ ली। 54 साल की मीनाक्षी बीजेपी की महिला मोर्चा की अध्यक्ष रह चुकी हैं। वो लगातार दो बार सांसद रह चुकी हैं।

बीजेपी सांसद एसपी सिंह बघेल ने ली शपथ

आगरा सीट से बीजेपी के लोकसभा सांसद एसपी सिंह बघेल ने ली मंत्रिपद की शपथ। 61 साल के बघेल 3 दशक से राजनीति में हैं और 5 बार के सांसद हैं। एसपी और बीएसपी के बाद उन्होंने बीजेपी ज्वाइन की। उनके बाद 57 साल के राजीव चंद्रशेख जो कि बीजेपी के राज्यसभा सांसद हैं, उन्होंने भी समारोह में शपथ ली। राजीव ने हार्वर्ड यूनिवर्सिटी से कंप्यूटर साइंस में एमटेक की पढ़ाई की है। 2006 से लगातार राज्यसभा के सांसद हैं। इनके अलावा 54 साल की कर्नाटक के उडुपी चिकमगलूर से सांसद शोभा करंदलाजे को भी पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई गई।

अनुप्रिया पटेल ने ली शपथ

40 साल की अपना दल की नेता अनुप्रिया पटेल ने पद और गोपनीयता की शपथ ली। अनुप्रिया पटेल मिर्ज़ापुर से सांसद हैं। और दोबारा मोदी कैबिनेट में शामिल हुई हैं। अब तक एनडीए के सहयोगी दलों के तीन नेता शपथ ले चुके हैं।

अनुराग ठाकुर ने ली शपथ

हिमाचल के हमीरपुर से सांसद अनुराग ठाकुर का कद बढ़ सकता है। उन्हें कैबिनेट विस्तार में शपथ दिलाई गई है। फिलहाल वो वित्तराज्य मंत्री का पदभार संभाल रहे हैं। उनके अलावा 56 साल के पंकज चौधरी को भी राष्ट्रपति कोविंद ने शपथ दिलाई है। पंकज ने गोरखपुर यूनिवर्सिटी से ग्रैजुएशन किया है। 1991 में वो पहली बार सांसद बने। वो लगभग चार दशक से एक्टिव राजनीति में हैं।

आरके सिंह और मनसुख मांडविया ने ली शपथ

लोकसभा सांसद आरके सिंह ने ली पद और गोपनियता की शपथ। उनके बाद राज्यसभा सांसद हरदीप सिंह पूरी ने शपथ ली। इसके अलावा मनसुख मांडविया को भी पद और गोपनियता की शपथ दिलाई गई।

नारायण राणे ने ली मंत्रिपद की शपथ

महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री नारायण राणे ने ली मंत्रिपद की शपथ। राणे 6 बार विधायक रह चुके हैं. महाराष्ट्र के राज्यसभा सांसद हैं।

डॉ विरेंद्र कुमार ने मंत्री पद की शपथ ली

डॉ विरेंद्र कुमार को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने मंत्री पद की शपथ दिलाई। वीरेंद्र कुमार टीकमगढ़ से सांसद हैं।

पशुपति पारस और सिंधिया ने ली शपथ

चिराग पासवान के चाचा पशुपति पारस ने कैबिनेट मंत्री की ली शपथ। और रामचंद्र प्रसाद सिंह ने मंत्री पद की शपथ ग्रहण की।

Related posts

देखें दिन भर की बड़ी खबरें, 5 लाख का इनामी विकास दुबे गिरफ्तार

Rani Naqvi

मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ में कांग्रेस विधानसभा चुनाव संयुक्त विपक्षी मोर्चा बनाकर लड़ेगी

mahesh yadav

पुणे : घर में मिली एक ही परिवार के 4 लोगों की लाश, सुसाइड की जताई जा रही आशंका

Rahul