modi on teeka utsav टीका उत्सव पर पीएम मोदी का संदेश, जानें देशवासियों से क्या कहा?
नई दिल्ली। टीका उत्सव को लेकर पीएम मोदी ने देशवासियों को संदेश दिया है। अपने संदेश में पीएम मोदी ने लोगों से अपील की है कि जो भी टीका लगाने के योग्य माने गए हैं, वो सभी लोगो टीका लगवाएं, इसके साथ ही पीएम मोदी ने कोरोना नियमों का पालन करने की अपील की।
पीएम मोदी ने कहा, आज ज्योतिबा फुले जयंती से हम देशवासी ‘टीका उत्सव’ की शुरुआत कर रहे हैं और यह 14 अप्रैल यानी बाबा साहेब आंबेडकर जयंती तक चलेगा। कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में जनता से सहयोग की अपील के साथ कई सुझाव भी दिए।
EACH ONE, VACCINATE ONE
पीएम ने लोगों से आग्रह करते हुए कहा, ‘‘ईच वन वैक्सीनेट वन’’ की बात कही. यानी जो लोग कम पढ़े-लिखे हैं,  बुजुर्ग हैं, जो स्वयं जाकर टीका नहीं लगवा सकते, उनकी मदद करें।
EACH ONE, TREAD ONE
प्रधानमंत्री ने ‘‘ईच वन- ट्रीट वन’’  के लिए भी लोगों से आग्रह किया. यानी जिन लोगों के पास साधन नहीं, जिन्हें जानकारी भी कम है, कोरोना के इलाज में उनकी उनकी मदद करें।
EACH ONE, SAVE ONE
पीएम मोदी ने, ‘‘ईच वन- सेव वन’’ का भी संदेश दिया. यानी मैं स्वयं भी मास्क पहनूं और इस तरह स्वयं का भी बचाव करूं और दूसरों को भी बचाऊं, इस पर बल देना है।
विश्व में नबंर-1 है भारत

टीका उत्सव में ज्यादा से ज्यादा योग्य लाभार्थियों का टीकाकरण करने की कोशिश है। 45 साल से ज्यादा उम्र के सभी लोगों को वैक्सीन लगाई जाएगी। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक रोजाना वैक्सीन देने की संख्या के हिसाब से भारत वैश्विक स्तर नबंर-1 पर है। भारत में औसतन 38,93,288 डोज हर रोज दी जा रही है। देश में 85 दिन में 10 करोड़ से ज्यादा डोज दी गई हैं और इस मामले में अमेरिका और चीन को पीछे छोड़ दिया है।

जीरो वेस्टेज पर जोर

टीका उत्सव अभियान का उद्देश्य वैक्सीन की बर्बादी रोकना है। इसके जरिए जीरो वेस्टेज पर जोर दिया जा रहा है। पीएम मोदी ने अभियान में टीकाकरण क्षमता बढ़ाकर वैक्सीन की बर्बादी रोकने की बात कही है, जिससे ज्यादा से ज्यादा लोगों का टीकाकरण हो सके।

काम की जगह वैक्सीनेशन

केंद्र सरकार की इजाजत के बाद सरकारी और प्राइवेट संस्थानों में कर्मचारियों के लिए वैक्सीनेशन सेशन किए जा सकेंगे। इसमें 45 वर्ष या उससे अधिक उम्र के कर्मचारियों को टीका लगाया सकेगा, लेकिन बाहर के लोगों को इसमें शामिल नहीं किया जा सकेगा। टीका उत्सव के दौरान वर्कप्लेस पर वैक्सीनेशन बढ़ने की उम्मीद है।

कृषि योग्य जमीन को चौपट कर रहा यह सुंदर दृश्‍य, जानिए पूरा मामला

Previous article

हरदोई में 40 बीघा फसल जलकर हुई राख, दिखा डराने वाला मंजर

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.

More in featured