प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी समेत राहुल गांधी ने घटना पर दुख व्यक्त किया

नई दिल्ली। बीते शुक्रवार को पंजाब के अमृतसर में रावण दहन के कार्यक्रम के दौरान रेलवे पटरी में दौड़ी मौत की ट्रेन ने सभी को हिलाकर रख दिया है। रेलवे ट्रैक पर खड़े होकर रावण दहन देख रहे लोग इस तेज रफ्तार ट्रेन की रफ्तार के शिकार हो गए। इस घटना में 60 लोगों की मौत के साथ 72 लोग घायल हुए हैं। हादसा इतना भयानक था कि पूरे ट्रैक पर जूते चप्पल और मांस के लोथड़े और खून बिखरा पड़ा था। ट्रैक के दोनों तरफ 150 मीटर तक शव बिखरे नजर आ रहे थे।

मौके पर राहत और बचाव दल ने तुरंत घायलों को अस्पताल भेजा और मृतकों को अलग करने का काम किया। इस हादसे को लेकर पंजाब सरकार ने मृतकों के परिजनों को तुरंत 5 लाख रूपए देने का एलान कर दिया। इस घटना को लेकर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी समेत राहुल गांधी व अन्य नेताओं ने दुख प्रकट किया है। इस हादसे के बाद ही देर रात रेल राज्य मंत्री मनोज सिन्हा ने भी घटना स्थल का दौरा किया। इसके साथ ही पंजाब के मुख्यमंत्री ने कैप्टन अमरिंदर सिंह शनिवार को घटना स्थल पर आए।

मौके पर पहुंच कर हालात का जायजा लेने के बाद कैप्ट अमिरंदर सिंह ने इस मामले के मजिस्ट्रेट जांच करने का भी आश्वासन दिया है। वहीं रेलवे प्रशासन ने इस घटना को लेकर स्थानीय प्रशासन पर ठिकरा फोड़ दिया है। अब जांच के बाद ही स्पष्ट हो सकेगा कि गलती किसकी है। हादसे के बाद उस रूट पर कई ट्रेन बंद कर दी गई है। कई ट्रेनों के रास्तों में परिवर्तन किया गया है। इस घटना के बाद रेल प्रशासन ने हेल्प लाइन नम्बर भी जारी किए हैं।

हेल्पलाइन नंबर
मनावाला रेलवे स्टेशन-0183-2440024
पावर केबिन, मनावाला रेलवे स्टेशन-0183-2402927
अन्य सहायता नंबर- 9779232880, 9779232558, 7986897301
अमृतसर रेलवे हेल्पलाइन नंबर- 0183- 2223171, 0183 2564485