Breaking News featured देश यूपी राज्य

पीएम ने किया युवा महोत्सव को संबोधित, कहा- ग्रेटर नोएडा है ”मिनी भारत”

mini bharat पीएम ने किया युवा महोत्सव को संबोधित, कहा- ग्रेटर नोएडा है ''मिनी भारत''

नोएडा। मिथक को एक बार फिर तोड़ते हुए नोएडा पहुंचे उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ग्रेटर नोएडा में नेशनल यूथ फेस्टिवल की शुरुआत की। इसके बाद योगी ने लोगों को संबोधित किया और फिर बाद में पीएम मोदी वीडियो कॉनफ्रेसिंग के जरिए सबसे रुबरू हुए। पीएम ने वीडीयो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि योगी जी कम खिलाडी नहीं हैं। कई राज्यों में बहुत लोगों के साथ हमारे योगीजी ट्विटर-ट्विटर का खेल खेल रहे हैं। ट्वीट के इस खेल में भी अच्छे-अच्छे खिलाड़ियों को उन्होंने परास्त कर दिया।

दरअसल कर्नाटक के सीएम सिद्धारमैया ने योगी के कर्नाटक दौरे पर ट्वीट करते हुए कहा था कि ‘मैं उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री अदित्यनाथ योगी का हमारे राज्य में हमारे राज्य में स्वागत करता हूं। आपको हमसे सीखने के लिए बहुत कुछ है। हमारे यहां की इंदिरा कैंटीन और राशन की किसी दुकान को देखें। इससे आपको यूपी में भूख से होने वाली मौतों से निपटने में मदद मिलेगी। इसके बाद योगी ने ट्वीट कर जवाब दिया था कि स्वागत के लिए धन्यवाद सिद्दारमैयाजी। मैंने सुना है कि कर्नाटक में आत्महत्या करने वाले किसानों की संख्या आपके शासन में सबसे ज्यादा थी, न कि ईमानदार अधिकारियों के कई मौतों और ट्रांसफर का जिक्र करने के लिए। इसी को लेकर पीएम ने सीएम योगी की तारीफ की।

mini bharat पीएम ने किया युवा महोत्सव को संबोधित, कहा- ग्रेटर नोएडा है ''मिनी भारत''

इसके अलावा पीएम मोदी ने कहा कि नए साल में विवेकानंद जयंती में मेरा मन था कि आप लोगों के बीच आमने-सामने आकर बात करूं,लेकिन व्यवस्तत के कारण में पहुंच नहीं सका इसलिए वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से आप लोगों से जुड़ रहा हूं। उन्होंने कहा कि मेरे सामने ंमिनी भारत ग्रेटर नोएडा में बसा है। इसके साथ ही प्रधानमंत्री मोदी ने इसरो के वैज्ञानिकों को बधाई दी जिन्होंने एक साथ 31 सैटेलाइट की कामयाब लॉन्चिंग की है। इसमें अमेरिका समेत 6 देशों के 28 सैटेलाइट शामिल हैं। पीएम ने कहा कि ग्रेटर नोएडा में नेशनल यूथ फेस्टिवल की शुरुआत हो रही है। मुझे बताया गया कि अगले चार दिनों में बहुत से कार्यक्रम होने वाले हैं।

 

पीएम ने कहा कि 2022 में आजादी के 75 साल पूरे हुए हैं। आजादी के आंदोलन के बारे में सिर्फ सुना है। हमने स्वतंत्रता आंदोलन में हिस्सा नहीं लिया। हम आजादी मिलने के बाद पैदा हुए। हमें उन सपनों को पूरा करना है, जो आजादी के लिए लड़ने वाले नेताओं ने देखी थी।  उन्होंने कहा कि  हम आपसे एक बात कहना चाहते है कि जब आज के दिन भर के कार्यक्रम के बाद आप जब घर जाएं, तो ये जरुर सोचिएगा। आप अपने पास क्या-क्या बदलना चाहते है। आजादी के वक्त देखे गए सपनों को हम पूरा जरुर कर सकते हैं। हम चाहते है कि हमारा यूथ जॉब क्रियेटर बने। हमारा यूथ नए इनोवेशन लेकर आए।

 

Related posts

ईरान के पास मिला 10 गुना ज्यादा यूरेनियम, अमेरिका का क्या होगा?

Samar Khan

नीतीश के फैसले पर जेडीयू में फूट, नाराज हुए अली अनवर

Srishti vishwakarma

Varanasi: पीएम मोदी दो और गांवों को बनाएंगे स्मार्ट, जानिए कैसे

Aditya Mishra