amitabh bachchan अमिताभ बच्चन की आवाज वाली कोरोना कॉलर ट्यून पर विवाद, कोर्ट पहुंचा मामला

नमस्कार, हमारा देश और पूरा विश्व आज कोविड-19 की चुनौती का सामना कर रहा है. कोविड-19 अभी खत्म नहीं हुआ है…जी हां सही पहचाना आपने जब भी आप किसी को कॉल करते हैं तो अमिताभ बच्चन की आवाज में कोरोना वायरस को लेकर एक मैसेज सुनाई देता है. जिससे की अब सभी इससे वाकिफ हैं. लेकिन इसे लेकर अब विवाद हो गया है. दरअसल, इसे हटाने के लिए अब दिल्ली हाईकोर्ट में याचिका दाखिल की गई है. ये याचिका किसने दायर की है इस बारे में कोई जानकारी नहीं है.

कोरोना वायरस संक्रमण के प्रति आगाह करने वाली कॉलर ट्यून को हटाने की मांग को लेकर दिल्ली हाई कोर्ट में याचिका दाखिल की गई है. दिल्ली हाई कोर्ट में दायर इस जनहित याचिका में मांग की गई है कि अभिनेता अमिताभ बच्चन की आवाज में कोरोना वायरस संक्रमण के प्रति जागरूक करने वाली कॉलर ट्यून को हटाया जाए. इसके पीछे याचिकाकर्ता की ओर से कई तरह के तर्क दिए गए हैं. कोर्ट में दायर इस जनहित याचिका में यह तर्क भी दिया गया है कि कोरोना के दौर में कोरोना वॉरियर्स को ही मोबाइल फोन की कॉलर ट्यून में कोरोना वायरस संक्रमण के प्रति जागरूकता कार्यक्रम के तहत हिस्सेदारी दी जानी चाहिए. यह भी कहा गया है कि बहुत से लोग कोरोना वॉरियर्स हैं और उन्होंने समाज में बेहतर काम करके एक अच्छा उदाहरण पेश किया है. इतना ही नहीं, अमिताभ बच्चन इस काम के लिए केंद्र सरकार पैसा भी ले रहे हैं. जागरूकता कार्यक्रम के लिए मोबाइल पर कॉलर ट्यून अमिताभ बच्चन की जगह उन लोगों की लगाई जानी चाहिए जिन्होंने करोना काल में समाज के लिए सेवा की है. दिल्ली हाई कोर्ट के न्यायाधीश डीएन पटेल और न्यायाधीश ज्योति सिंह की पीठ ने इसे 18 जनवरी के लिए सूचीबद्ध किया है, क्योंकि याचिकाकर्ता के वकील ने शारीरिक सुनवाई में असमर्थता व्यक्त की थी.

जल्द ही मिलेगीं दोनों वैक्सीन, टीकाकरण की तैयारियां पूरी- स्वास्थ्य मंत्री

Previous article

श्रद्धालु आसानी से जा सकेंगे बदरीनाथ धाम, लामबगड़ स्लाइड जोन का हुआ स्थायी ट्रीटमेंट

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.

More in featured