इजरीयली सेना ने की फिलीस्तीनी महिला नर्स की गोली मारकर हत्या, घायलों की कर रही ती मदद

कल (1 जून) को गाजा पट्टी के अंदर इजरायली सेना ने झुक्रवार के दिन एख फिलीस्तीनी महिला की कथित गोली मारकर हत्या कर दी। अल अरबिया डॉट नेट के हवाले से एक न्यूज़ वेबसाइट में छपी रिपोर्ट के मुताबिक, 21 वर्षीय रजान अल-नज्जर ने एक चिकित्सा सहायक के रूप में काम करती थी और विरोध प्रदर्शन के दौरान इजरायल की गोलीबारी से फिलिस्तीनियों को घायल होने पर उनका उपचार करती थी और कई मौकों पर उसने घायलों के साथ फोटो खिंचवाया था।

 

 

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, गाजा स्वास्थ्य मंत्रालय के अधिकारियों ने पुष्टि की कि शुक्रवार के विरोध के दौरान कम से कम 100 फिलिस्तीनी घायल हो गए हैं। एक न्यूज़ वेबसाइट में छपी रिपोर्ट के मुताबिक, स्वास्थ्य मंत्रालय के प्रवक्ता डॉ अशरफ अलकदरा ने बताया कि इजरायली सेना की फायरिंग से 22 वर्षीय नर्स रज़ान अशरफ अलनजार तब शहीद हुईं जब दक्षिण गाजा के क्षेत्र खान यूनुस में वह घायल प्रदर्शनकारियों को चिकित्सा प्रदान कर रही थीं।

 

 

रिपोर्ट्स के मुताबिक, 22 वर्षीय राज़ान को शुक्रवार की शाम पूर्वी खान यूनुस में कथित-तौर पर उस समय गोलियां मारी गईं जब वह ग्रेट रिटर्न मार्च में आयोजित प्रदर्शन के दौरान घायल होने वाले फ़िलिस्तीनियों की मरहम पट्टी में व्यस्त थीं।

 

 

रिपोर्ट्स के मुताबिक, 2014 के गाजा युद्ध के बाद हिंसा की सबसे बड़ी वारदात है जिसमें गाजा पट्टी के अंदर इजरायली बलों और फिलिस्तीनी समूहों के बीच तनाव बढ़ने के साथ ही नर्स की मौत हुई है।