कोरोना पॉजिटिव सीएम योगी के लिए पीजीआई में बेड हुआ आरक्षित, जानिए क्या होगा आगे

लखनऊ: राजधानी लखनऊ में बढ़ते कोरोना के कहर के बीच बड़ी खबर सामने आ रही है। लखनऊ के संजय गांधी पोस्ट ग्रेजुएट आयुर्विज्ञान संस्थान (एसजीपीजीआई) के कर्मचारी महासंघ ने पीजीआई के निदेशक को पत्र लिखा है।

पीजीआई के कर्मचारी महासंघ ने निदेशक को लिखा पत्र, कहा- मांगें मानें नहीं तो...

पत्र के माध्यम से पीजीआई के निदेशक से मांग की गई है कि संस्थान में बने आरसीएच-2 को केवल संस्थान के कर्मचारियों के लिए ही आरक्षित किया जाए।

बड़ी संख्या में हो रहा कोविड पेशेंट का इलाज 

कर्मचारी महासंघ ने राजधानी लखनऊ में कोरोना के कहर को देखते हुए ये मांग की गई है। कर्मचारी महासंघ ने पत्र में लिखा है कि लखनऊ में कोरोना का कहर देखने को मिल रहा है। वहीं पीजीआई में बड़ी संख्या में कोविड के मरीज अपना इलाज करा रहे हैं। इससे बड़ी संख्या में कर्मचारी भी कोरोना से संक्रमित हो जा रहे हैं।

कर्मचारियों को ही नहीं किया जा रहा भर्ती 

कर्मचारी महासंघ ने बताया कि जो कर्मचारी कोरोना से संक्रमित हो जा रहे हैं उनको पीजीआई में भर्ती नहीं किया जा रहा है। इससे वो दूसरे प्राइवेट अस्पताल में इलाज कराने के लिए यहां वहां भटक रहे हैं। वहीं पीजीआई में एडमिट होने के लिए निदेशक का सोर्स लगाया जा रहा है। जत जाकर कर्मचारियों को इलाज मिल पा रहा है।

सक्षम अधिकारी नहीं उठाते फोन 

वहीं सक्षम अधिकारी समस्या होने पर फोन भी नहीं उठा रहे हैं, इससे भी स्थिति अतयंत ही भयावह हो गई है। अत: कर्मचारी महासंघ पीजीआई निदेशक से अनुरोध करता है कि उसके लिए पीजीआई के आरसीएच-2 वार्ड को आरक्षित किया जाए। जिससे पीजीआई में कार्यरत कर्मचारियों को कोविड होने की दशा में इधर उधर नहीं भटकना पड़े।

दूसरे कर्मचारियों को भी मिले इलाज 

पीजीआई के कर्मचारी महासंघ ने कहा कि पीजीआई संस्थान में आउटसोर्सिंग के माध्यम से भी कई लोग काम कर रहे हैं। उनको भी संस्थान में इलाज की सुविधा दी जाए। कर्मचारी महासंघ ने पीजीआई प्रशासन को चेतावनी देते हुए कहा कि अगर उनकी मांगे नहीं मानी गईं और कोई अनहोनी हुई तो उसकी पूरी जिम्मेदारी स्वयं संस्थान प्रशासन की होगी।

सीएमएस ने दिया कार्रवाई का भरोसा 

वहीं इस मामले में कर्मचारी संघ के अध्यक्ष जितेंद्र कुमार यादव ने भारत खबर से बातचीत के दौरान बताया कि सीएमएस से हमारी बात हुई है। उन्होंने कार्रवाई का आश्वासन दिया है। उन्होंने कहा कि पीजीआई प्रशासन हमारे साथ खड़ा है। हमारी मांगों पर सुनवाई का पूरा भरोसा दिया है। जल्द हमारी समस्या का समाधान होगा।

उत्‍तर प्रदेश में कोरोना संक्रमण पर केंद्र सरकार अलर्ट, जल्‍द भेजेगी टीम

Previous article

मुख्तार अंसारी के साथ खड़ा हुआ सोशल मीडिया, दी जा रहीं इतनी बड़ी उपाधियां

Next article

Comments

Comments are closed.