सरायगढ़ी और नखासकोहना की जनता ने मंत्री नंदी को सुनाई पेयजल समस्या

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के नागरिक उड्डयन, अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री व प्रयागराज शहर दक्षिणी विधानसभा क्षेत्र के विधायक नन्द गोपाल गुप्ता नंदी ने नखासकोहना, सरायगढ़ी इलाके में भ्रमण किया। जहां बड़ी संख्या में लोगों ने पेयजल आपूर्ति की समस्या से मंत्री को अवगत कराया।

लोगों की शिकायत को गंभीरता से लेते मंत्री नंदी ने तत्काल जलकल के अधिकारियों से वार्ता की और ईएक्सईएन जलकल को तलब किया। इसके साथ ही उन्होंने पेयजल की समस्या का समाधान कराने का भी निर्देश दिया। बूथ अध्यक्ष सत्या सिंह एवं पन्ना प्रमुख की आवाज पर मंत्री ने जाकर लोगों की समस्याएं सुनी।

कई महीने झेल रहे पानी की समस्या

सरायगढ़ी और नखासकोहना के लोगों ने मंत्री नंदी को बताया कि पिछले कई महीनों से पूरे इलाके में पेयजल आपूर्ति की समस्या बनी हुई है। दूषित पानी के साथ सुबह और शाम का सारा काम होता है। पेयजल की सबसे ज्यादा समस्या होती है। लोगों ने मंत्री से एक और ट्यूबवेल लगवाए जाने की भी मांग की। मंत्री नंदी ने कहा कि लोगों की समस्या का तत्काल समाधान कराया जाएगा, उन्होंने जीएम जलकल व ईएक्सईएन जलकल को तत्काल समाधान कराने का निर्देश दिया।

कार्यकर्ताओं और पदाधिकारियों से की मुलाकात

मंत्री नंदी ने बूथ अध्यक्ष, सेक्टर संयोजक एवं पन्ना प्रमुख के घर जाकर कार्यकर्ताओं-पदाधिकारियों के साथ वार्ता की। इसके साथ ही परिजनों व अन्य लोगों से मुलाकात करके सबकी समस्याएं सुनी। संबंधित अधिकारियों से बात करके समस्याओं के तुरंत निस्तारण का निर्देश दिया।

परिवार की तरह हैं कार्यकर्ता- नंदी

इस दौरान मंत्री नन्दी ने कहा कि पार्टी के कार्यकर्ता का परिवार उनके अपने परिवार की तरह है। सभी के सुख-दुख में सदैव खड़े रहने का प्रयास हम करते हैं। मंत्री ने प्रकाश जयसवाल गुलाम मोहिउद्दीन, रज्जन अली, ओमप्रकाश अग्रहरी, भरत केसरी अरुण केसरवानी, मोहम्मद नसीम अख्तर, मोहम्मद अरमान कुरेशी, मोहम्मद जुनेद, समीर कुरेशी के घर जाकर लोगों से मुलाकात की। इस दौरान मंडल अध्यक्ष दिनेश विश्वकर्मा, मनोज गुप्ता, सुमित वैश्य आदि मौजूद रहे।

IIT रुड़की: 90 स्टूडेट्स हुए कोरोना संक्रमित, कोविड सेंटर में बदला गया एक हॉस्टल

Previous article

न्याय के देवता हैं शनि, जानें उनसे जुड़ी खास बातें

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.