शराब बंदी के समर्थन में आए लोग, दिया वोट

जयपुर। बिहार की सत्ता संभालते ही शराबबंदी जैसा महत्वपूर्ण फैसला लेने के बाद नीतीश कुमार की देशभर में तारीफ हुई। साथ ही शराबबंदी कानून को लागू करने के लिए कई राज्यों में आवाज भी उठी। राजस्थान के आमेर तहसल में भी ऐसा ही देखने को मिला हैं। यहा पर लोगों ने शराबबंदी करने के समर्थमन में वोट किया है।

गांव में शराब बंदी के समर्थन में 62% मतदाताओं ने वोट डालें। शराब की दुकान हटाने के लिए रविवार सुबह आठ बजे से मतदान शुरू हुआ जो शाम 05 बजे तक चला। मतदान को लेकर गांव के लोगों और विशेषकर महिलओं में जबरदस्त उत्साह दिखा। शराब पर रोक लगाने के लिए वोट डालने के लिए प्रशासन की ओर से 4 मतदान केंद्र बनाए गए थे, जिसमें तकरीबन 4206 मतदाता थे।

आबकारी विभाग के नियमों के अनुसार अगर 51 प्रतिशत मतदाता शराब की दुकान बंद करवाने के लिए मतदान करते हैं तो संबंधित इलाके से दुकान को हटा दी जाती है। रविवार को हुए मतदान में 2581 मत डले इनमें 2269 मत शराब बंदी के पक्ष में मत डाले गए। इस तरह कुल 62 फीसदी वोट शराब बंदी के समर्थन हुआ। इसके साथ ही रोजदा शराब की दुकान नहीं खुल पाएगी। यह चुनाव द राजस्थान एक्साईज नियम 1975 के नियम 08 के तहत कराया गया।