Uncategorized

गुजरातः आनंदीबेन ने मुख्यमंत्री पद से इस्तीफे की पेशकश की

Anandiben गुजरातः आनंदीबेन ने मुख्यमंत्री पद से इस्तीफे की पेशकश की

नई दिल्ली, 1 अगस्त। पाटीदार आंदोलन ओर दलित कांड की वजह से लगातार विरोधि‍यों के निशाने पर रही गुजरात की मुख्यमंत्री आनंदीबेन पटेल ने पिछले दो दिनों में तीन बड़ी घोषणाएं करके राज्य के लोगों को खुश तो कर दिया लेकिन अब उन्होंने खुद को मुख्यमंत्री पद से मुक्त करने की पेशकश की है। वह 75 वर्ष की होनेवाली हैं, वह नबंबर में अपने आयु के इस पड़ाव पर पहुंच जाएंगी। इसी को आधार बनाकर उन्होंने खुद को मुख्यमंत्री पद से अलग करने की पेशकश की है। वहीं खबर की माने तो प्रदेश भाजपा की तरफ से आनंदीबेन की सिफारिश को मंजूर भी कर लिया गया है।

Anandiben
इस मामले को लेकर आनंदीबेन पटेल ने फेसबुक पर लिखा कि मुझे मुख्यमंत्री पद से मुक्त किया जाए। उन्होंने अपने फेसबुक पोस्ट में लिखा कि मैं हमेशा से ही भाजपा की विचारधारा, सिद्धांत और अनुशासन से प्रेरित हूं और इसका आज तक पालन करती आई हूं। पिछले कुछ समय से पार्टी में 75 से ऊपर के उम्र के नेता और कार्यकर्ता स्वैच्छिक रूप से अपना पद छोड़ रहे हैं, जिससे कि युवाओं को मौका मिले। यह एक बहुत अच्छी परंपरा है। मेरे भी नवंबर महीने में 75 साल पूरे होने जा रहे हैं। लेकिन 2017 के अंत में गुजरात में विधानसभा के चुनाव होने हैं। इन चुनाव में नवनियुक्त होने वाले मुख्यमंत्री को ज्यादा समय मिले, इसके लिए मैंने दो महीने पहले ही हाईकमान से इस जिम्मेदारी से मुक्त होने के लिए निवेदन किया है। मैं आज फिर से इस पत्र के द्वारा पार्टी के नेताओं से मुख्यमंत्री पद की जिम्मेदारी से मुक्त करने की गुजारिश करती हूं।

इस पर आप और कांग्रेस की तरफ से राजनीति शुरू कर दी गई है। गुजरात कांग्रेस की तरफ से कहा जा रहा है कि पता नहीं यहां सरकार कौन चला रहा है। भाजपा के अंदरूनी मामले से आनंदीबेन पटेल तंग है। आप के नेताओं ने इस मामले पर कहा कि गुजरात में आम आदमी पार्टी की बढ़ती लोकप्रियता के कारण आनंदी बेन पटेल को हटाया गया है, भाजपा कुछ भी कर ले दलितों पर जुर्म का दाग नहीं मिटेगा।

आनंदीबेन पटेल ने अपने फेसबुक पोस्ट में लिखा कि मैंने पार्टी के राष्ट्रीय नेतृत्व को पहले ही बताया था कि मुझे इस पद से मुक्त कर दिया जाए आज मैं अपने फेसबुक पर लिखे पत्र के माध्यम से एक बार फिर उनसे कहना चाहुंगी की मुझे इस पद से मुक्त किया जाए।

Related posts

प्रयागराज: वेंटिलेटर खरीद मामले पर AAP का प्रदर्शन, CBI से जांच कराने की मांग की

Shailendra Singh

रतन टाटा ने दिए टाटा समूह में बदलाव के संकेत

Rahul srivastava

दस सालों तक भारत को हमलावर पनडुब्बी देगा रूस, करार से पाकिस्तान की उड़ी नींद

bharatkhabar