जिला प्रशासन के इस निर्णय से अभिभावकों को मिलेगी राहत, नहीं बढ़ेगी स्कूलों की फीस

गौतमबुद्धनगर: अभिभावक कोरोना काल के बाद से अभी भी आर्थिक रूप से संभल नहीं पाए हैं। इसी को ध्यान में रखते हुए जिला प्रशासन ने सभी प्राइवेट स्कूलों को इस सत्र में फीस न बढ़ाने के निर्देश दिए हैं।

प्राइवेट स्कूलों में नहीं बढ़ेगी फीस

प्राइवेट स्कूलों की तरफ से फीस बढ़ाने का प्रस्ताव जिला प्रशासन के पास भेजा गया था, जिसे ठुकरा दिया गया है। प्रशासन की तरफ से कहा गया है कि सत्र 2021-22 के लिए फीस में कोई भी बढ़ोत्तरी नहीं होगी। अभिभावकों की आर्थिक असहजता को देखते हुए यह निर्णय लिया जा रहा है।

सरकार ने भी जारी किए थे आदेश

इसके पहले सरकार ने फीस में सहुलियत बरतने के निर्देश दिए थे। इसमें कहा गया था कि सभी प्राइवेट स्कूल सिर्फ ट्यूशन फीस ही लेंगे, अन्य किसी भी तरह का शुल्क नहीं वसूली जायेगा।

कई ऐसे अभिभावक हैं जिनकी नौकरी जा चुकी है, परिवार के अन्य खर्चे भी हैं। ऐसे में उन पर अतिरिक्त दबाव नहीं बनाया जायेगा।  इस आदेश पर निगरानी रखने के लिए एक कमेटी का भी गठन किया गया है। जो समय-समय पर जांच करती रहेगी।

अभिभावकों ने की थी मदद की मांग

स्कूल फीस को बढ़ाने का प्रस्ताव सुनते ही अभिभावक परेशान हो गए थे, जिसके बाद सभी ने प्रशासन से मदद की गुहार लगाई थी। इसी पर एक्शन लेते हुए, यह निर्देश जारी किया गाया है। प्राइवेट स्कूल अक्सर प्रतिवर्ष फीस में बढ़ोत्तरी करते रहते हैं, इनकी मनमानी पर माता-पिता की नाराजगी भी दिख जाती है।

इस बार महामारी से उबर रहे देश में इस व्यवस्था पर लगाम लगाने की कोशिश की गई है। गौतमबुद्ध नगर के सभी प्राइवेट स्कूल अब इस सत्र में फीस नहीं बढ़ा पायेंगे।

पीएम मोदी की वीडियो कॉन्फ्रेसिंग के बाद, उत्तराखंड के सीएम तीरथ सिंह रावत एक्शन में, अधिकारियों को दिए ये निर्देश

Previous article

बरसाने की लट्ठमार होली के इस राज़ को नहीं जानते होंगे आप

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.