Breaking News featured दुनिया

न्यूयॉर्क एयरपोर्ट पर पाक पीएम की चेकिंग से भड़की पाकिस्तानी मीडिया, बताया ‘शर्मनाक’

1522179211 1516903576 1505973515 1505961946 1505731145 Shahid Khaqan Abbasi न्यूयॉर्क एयरपोर्ट पर पाक पीएम की चेकिंग से भड़की पाकिस्तानी मीडिया, बताया 'शर्मनाक'

आजकल पाकिस्तानी मीडिया में एक वीडियो को लेकर काफी चर्चा की जा रही है। इस वीडियो को लेकर पूरा पाकिस्तानी मीडिया भड़का हुआ है। उनका दावा है कि वीडियो में पाकिस्तान के प्रधानमंत्री शाहिद खाकन अब्बासी की न्यूयॉर्क एयरपोर्ट पर चेकिंग की जा रही है। जो कि अमेरिका एक निजी यात्रा पर गए थे।

 

1522179211 1516903576 1505973515 1505961946 1505731145 Shahid Khaqan Abbasi न्यूयॉर्क एयरपोर्ट पर पाक पीएम की चेकिंग से भड़की पाकिस्तानी मीडिया, बताया 'शर्मनाक'

 

पाकिस्तानी मीडिया में फैली इस फुटेज में पीएम अपनी पेंट दुरुस्त करते नज़र आ रहे हैं और उसके बाद वह अपना बैग उठाकर वहां से चले जाते हैं। पाकिस्तानी मीडिया का दावा है कि यह अमेरिकी एयरपोर्ट की फुटेज है। शाहिद यहां अपनी बिमार बहन से मिलने आए थे। हालांकि वहां उनकी मुलाकात अचानक उप-राष्‍ट्रपति माइक पेंस से हो गई, जिन्‍होंने स्‍पष्‍ट शब्‍दों में उनसे कहा कि उन्‍हें आतंकी समूहों को पोषण देने की अमेरिका की चिंता पर और प्रयास करने होंगे।

 

इस वाकिये से पाकिस्तानी मीडिया खासी गुस्से में नज़र आ रही है। एक ने कहा, ‘उन्‍हें यह कहने के लिए शर्मिंदा होना चाहिए कि यह एक निजी यात्रा थी। वह प्रधानमंत्री हैं…उनका एक डिप्‍लोमेटिक पासपोर्ट है… प्राइवेट विजिट जैसी कोई चीज नहीं होती। वह देश का प्रतिनिधित्‍व कर रहे हैं। जब आप 22 करोड़ लोगों का प्रतिनिधित्‍व करते हैं तो कुछ प्रोटोकॉल होते हैं।’

 

रिपोर्ट्स के मुताबिक ट्रंप सरकार की तरफ से पाकिस्तान सरकार के व्यक्तियों पर वीजा बैन और अन्य बैन लगाए जा रहे हैं। सोमवार को वाशिंगटन ने 7 पाकिस्तानी कंपनियों पर प्रतिबंध भी लगाया था जिन पर परमाणु कारोबार से जुड़ाव होने का शक था।

 

यह मामला ऐसे वक्त में सामने आया है जब एक मैगजीन की तरफ से रिपोर्ट दी गई है कि अमेरिका इस्लामाबाद पर अभूतपूर्व राजनैतिक प्रतिबंध लगाना चाहता है। अमेरिका पाक को गैर-नाटो सहयोगी दर्जे से हटा सकता है, इसके अलावा दो महीने पहले रोकी गई अमेरिकी सैन्य सहायता को पुरी तरह बंद किया जा सकता है। इतना ही नहीं आतंकियों का समर्थन करने का जिम्मेदार माने जाने वाले राजनेताओं पर वीजा प्रतिबंध लगाए जा सकते हैं।

 

पिछली कुछ सरकारों से इतर, ट्रंप के करीबी इस साल सैन्‍य सहायता का सालाना फ्लो रोकना चाहते हैं। इससे पाकिस्‍तान के रक्षा बजट पर खास असर पड़ेगा। एक वरिष्‍ठ अधिकारी के अनुसार, ‘अमेरिकी कर्मचारियों और क्षेत्र में अपने हितों की रक्षा के लिए जो भी जरूरी है, हम करने को तैयार हैं।’

Related posts

एसडीएम ने किया सरकारी कार्यालयों का औचक निरीक्षण, सभी कार्यालयों में आधे ज्यादा कर्मचारी मिले नदारद

Aman Sharma

स्कूलों को लेकर उत्तर प्रदेश सरकार ने लिया ये बड़ा फैसला, आज से होगा लागू

Rani Naqvi

31 के वरुण धवन को तैमूर ने कहा भैया मेरी एज के लगते हो

mohini kushwaha