asam असम में आग का तांडव, बुझाने में लग सकते हैं 4 हफ्ते, 2 लोगों की मौत

असम के तिनसुकिया में सरकारी गैस कंपनी ‘ऑयल इंडिया’ के बागजान कुएं में लगी भीषण आग पर अब तक काबू नहीं पाया जा सका है।

गुवाहाटी। असम के तिनसुकिया में सरकारी गैस कंपनी ‘ऑयल इंडिया’ के बागजान कुएं में लगी भीषण आग पर अब तक काबू नहीं पाया जा सका है। वहीं इस हादसे में दो दमकलकर्मियों की मौत हो गई है। इनमें से एक की पहचान असम के पूर्व फुटबॉलर दुरलोव गोगोई के रूप में हुई है। गोगोई अंडर-19 और अंडर-21 कैटिगरी के अंतर्गत कई टूर्नामेंट में असम को रिप्रजेंट कर चुके हैं। कहा जा रहा है कि आग इतनी भीषण कि इसे बुझाने में चार हफ्ते यानी एक महीने का वक्त लग सकता है।

‘ऑयल इंडिया’ के प्रवक्ता त्रिदिव हजारिका ने बताया कि आग लगने के बाद दो दमकलकर्मी लापता हो गए थे। वहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने असम को हरसंभव मदद का आश्वासन दिया है। एनडीआरएफ के एक दल ने बुधवार सुबह दोनों के शव बरामद किए। अधिकारी ने बताया कि दोनों की पहचान दुरलोव गोगोई और टीकेश्वर गोहेन के रूप में की गई है और दोनों कंपनी के अग्निशमन विभाग में सहायक ऑपरेटर हैं। इस आग को बुझाने के प्रयास में ओएनजीसी का एक दमकलकर्मी मामूली रूप से झुलस गया था।

asam 2 असम में आग का तांडव, बुझाने में लग सकते हैं 4 हफ्ते, 2 लोगों की मौत

15 दिन से हो रहा है गैस का रिसाव

बता दें कि 15 दिनों से यहां गैस का अनियंत्रित रिसाव हो रहा था जिसके बाद मंगलवार को आग लग गई थी। त्रिदिव हजारिका ने कहा, ‘दमकलकर्मियों शव आग लगने वाली जगह के निकट पानी वाले क्षेत्र से बरामद किए गए। ऐस मालूम हो रहा है कि वे पानी में कूद गए और डूब गए क्योंकि उनके शरीर पर जलने का कोई निशान नहीं हैं। उनकी मौत की असल वजह जांच के बाद ही पता चल पाएगी।’

https://www.bharatkhabar.com/why-did-rahul-gandhi-and-bjp-mp-clash-with-each-other-on-india-china-dispute/

स्थानीय लोगों ने तेल कर्मचारियों पर किया हमला

भीषण आग की जद में आस-पास के जंगल का हिस्सा, मकान और वाहन भी आ गए जिसके चलते पूरे इलाके में अफरा-तफरी का माहौल है। इसके चलते स्थानीय लोगों ने ऑयल कर्मचारियों पर हमला कर दिया। इसमें कई कर्मचारियों को चोटें भी आई हैं।

केंद्रीय मंत्री से मुआवजे की गुजारिश

वहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल से बात कर पीड़ितों को हर संभव मदद का आश्वासन दिया। सोनोवाल ने पीएम मोदी को कॉल करके घटना के बारे में बताया था। इस बारे में मुख्यमंत्री सोनेवाल ने ट्वीट कर जानकारी भी दी। सोनोवाल ने पत्रकारों ने बातचीत में कहा कि उन्होंने केंद्रीय पेट्रोलियम मंत्री से दोनों मृतक के परिजनों को मुआवजा और एक सदस्य को नौकरी देने की गुजारिश की है।

Rani Naqvi
Rani Naqvi is a Journalist and Working with www.bharatkhabar.com, She is dedicated to Digital Media and working for real journalism.

    पिता ने एयर टिकट के लिए खर्च की थी एक साल की सैलरी, आज लेते हैं 28.1 करोड़ डॉलर की सैलरी

    Previous article

    कोरोना संकट के कारण बॉर्डर सील करने के फैसले को राजस्थान सरकार ने पलटा

    Next article

    You may also like

    Comments

    Comments are closed.

    More in featured