युवाओं के हुनर को उभारने के उत्तराखण्ड-2018 कौशल प्रतियोगिता का आयोजन

देहरादून। राज्य के युवाओं के हुनर को उभारने के उद्देश्य से उत्तराखण्ड कौशल विकास समिति, द्वारा इंडिया स्किल्स उत्तराखण्ड-2018 कौशल प्रतियोगिता का आयोजन किया जा रहा है। इसी क्रम में बाते शनिवार दिनांक 07 अप्रैल, 2018 को कुकिंग एवं रेस्टोरेन्ट सर्विस, ऑटोबॉडी रिपेयर, कार पेटिंग एवं वैल्डिंग के क्षेत्र में गढ़वाल मण्डल के युवाओं हेतु इण्डिया स्किल्स उत्तराखण्ड -2018 प्रतियोगिता का आयोजन आई.एच.एम., गढ़ी कैन्ट एवं मोहन मोटर्स ऋषिकेश, देहरादून में किया गया।

बता दें कि ज्ञातव्य है कि वल्र्ड स्किल प्रतियोगिता में मिशन निदेशक डॉ.पंकज कुमार पाण्डेय के नेतृत्व में उत्तराखण्ड पहली बार भाग ले रहा है। वल्र्ड स्किल प्रतियोगिता कौशल के क्षेत्र में दुनिया की सबसे बड़ी प्रतियोगिता है, जिसे कौशल का ओलंपिक्स भी कहा जाता है। यह प्रति 02 वर्षो में आयोजित की जाती है। इस प्रतियोगिता का मुख्य उद्देश्य कौशल विकास को समृद्ध करना है। जिससे अधिक से अधिक युवा कौशल में रूची लें साथ ही कौशल क्षेत्रों में भविष्य निर्माण की ओर अग्रसर रहें।

वहीं कुकिंग प्रतियोगिता में 20 एवं रेस्टोरेन्ट सर्विस में 12 कुशल युवक एवं युवतियों द्वारा प्रतिभाग किया गया। प्रतियोगिता में सर्वकुशल 05 छात्रों को चयनित किया गया। कुकिंग प्रतियोगिता में प्रथम स्थान पर श्री ग्रीस चन्द्र, द्वितीय स्थान पर श्री विवेक चमोली, तृतीय स्थान पर सुश्री प्रीति चमोली, चतुर्थ स्थान पर श्री हिमांशु बिष्ट तथा पांचवें स्थान पर श्री प्रियांक दीप रहे। रेस्टोरेन्ट सर्विस प्रतियोगिता में प्रथम स्थान पर श्री सर्मथ बिष्ट, द्वितीय स्थान पर श्री हिमांशु डलिया, तृतीय स्थान पर श्री राहूल सिंह बकराड़ी, चतुर्थ स्थान पर श्री आकांक्षा पुण्डीर तथा पांचवे स्थान पर श्री संजय पाल सिंह नेगी रहे।

प्रतियोगिता के निष्पक्ष निर्णय हेतु कुकिंग के विशेषज्ञ श्री सैफ शिरीष सक्सेना, सैफ श्री राजीव प्रकाश (पूर्व सैफ होटल ताज), एवं सैफ श्री महेन्द्रा खैरिया (जेस-इण्डियन कलीनरी फोरम), एवं एफ एण्ड बी में श्री राहूल वासुदेवा, श्री विनीत गिरी, होटल सरोवर, देहरादून एवं श्री आर.सी.पाण्डे, प्रधानाचार्य जी.आई.एच.एम. की तीन सदस्यों की ज्यूरी बनायी गयी। ज्यूरी द्वारा प्रतिभागियों का मूल्यांकन प्रस्तुतीकरण, प्रक्रिया, स्वाद एवं स्वच्छता जैसे मानकों पर किया गया।

साथ ही इसी प्रकार आॅटोबाॅडी रिपेयर, कार पेटिंग एवं वैल्डिंग प्रतियोगिता में कुल 73 युवाओं द्वारा प्रतिभाग किया गया। ऑटोबॉडी रिपेयर श्रेणी में प्रथम स्थान पर श्री द्विव्यांश सिंह बिष्ट एवं द्वितीय स्थान पर श्री नितिन कुमार, तृतीय स्थान पर आदित्य शर्मा रहे। इस श्रेणी की ज्यूरी में ऑटोमोटिव सेक्टर स्किल्स कांउसिल के श्री धवल राजपूत एवं श्री धर्मेन्द्र शर्मा थे। कार पेटिंग श्रेणी में प्रथम स्थान पर श्री राहुल वर्मा, द्वितीय स्थान पर श्री अजय बोध एवं तृतीय स्थान पर मनीष कुमार रहे। इस श्रेणी की ज्यूरी में आॅटोमोटिव सेक्टर स्किल्स कांउसिल के श्री धर्मेन्द्र शर्मा एवं ए.के.जेड.ओ. नोवल के श्री संजय नेगी थे।

वैल्डिंग श्रेणी में प्रथम स्थान पर श्री आश मोहम्मद, द्वितीय स्थान पर श्री अनुज कुमार एवं तृतीय स्थान पर श्री गौरव पाल रहे। इस श्रेणी की ज्यूरी में श्री उदयराज सिंह एवं मोहित जौहर थे। इसी क्रम में कुमाऊं क्षेत्र के युवाओं हेतु आई.टी.आई.(युवक), हल्द्वानी में आॅटोबाॅडी रिपेयर, कार पेटिंग एवं वैल्डिंग श्रेणी की प्रतियोगिता आगामी दिनांक 10 अप्रैल, 2018 को एवं कुकिंग एवं रेस्टोरेन्ट सर्विस श्रेणी की प्रतियोगिता दिनांक 12 अप्रैल, 2018 को आम्रपाली संस्थान, हल्द्वानी में आयोजित की जायेगी।

बता दें कि गढवाल एवं कुमाऊं मण्डल से चयनित प्रतिभागियों द्वारा राज्य स्तरीय प्रतियोगिता में दिनांक 15 से 18 अप्रैल 2018 को देहरादून में प्रतिभाग किया जायेगा। राज्य स्तरीय विजेताओं द्वारा जोनल व उसके बाद राष्ट्रीय स्तरीय प्रतियोगिता में राज्य का प्रतिनिधित्व किया जायेगा। राष्ट्रीय विजेता छात्र वल्र्ड स्किल-2019 जो कि रूस के कज़ान शहर में होगा उसमें शिरकत करेगें।
प्रतियोगिता समारोह में नोडल अधिकारी कौशल विकास मिशन/उपनिदेशक सेवायोजन चन्द्रकांता, सलाहकार शावेज़ बख्श, प्रबन्धक फाइनेन्स राजीव तिवारी, प्रबन्धक प्लेसमेन्ट स्वेता उनियाल, एवं प्रबन्धक प्रशिक्षण मनोज खरोला, परियोजना समन्वयक अवनीश जैन, एस.पी. सचान, सेवायोजन अधिकारी प्रवीन चन्द्र गोस्वामी आदि उपस्थित थे।