Breaking News featured उत्तराखंड देश

ऑल वेदर रोड के समर्थन में आए कई संगठन, इस सड़क को बताया राज्य के विकास की जरूरत

5add01d9 d2d2 453a beaf 882d7b267161 ऑल वेदर रोड के समर्थन में आए कई संगठन, इस सड़क को बताया राज्य के विकास की जरूरत

उत्तराखंड। ऑल वेदर रोड को लेकर सुप्रीम कोर्ट के निर्देश पर गइित हाईपाॅवर कमेटी के समक्ष अपना पक्ष रखने पहुंचे। जहां गढ़वाल सभा समेत दूसरे संगठन के लोगों ने आॅल वेदर रोड के निर्माण का समर्थन किया। इसके साथ ही लोगों ने इस सड़क की पूर्व तय चैड़ाई को न घटाने की मांग भी की। हालांकि लोगों को समिति के समक्ष अपना पक्ष रखने का मौका नहीं दिया गया। इसके साथ ही मौती आंदोलन के प्रणेता पदमश्री के कल्याण सिंह के नेतृत्व में रेंजर्स काॅलेज पहुंचे लोगों ने रवि चोपड़ा समिति के समक्ष अपनी बात रखने की मांग की। हालांकि सुरक्षाकर्मियों ने उन्हें बैठक हाॅल में जानें नहीं दिया। जिसके बाद मौके पर पहुंचे अधिकारियों ने बताया कि सुप्रीम कोर्ट के निर्देश पर गठित समिति की ये गुप्त बैठक है। इसमें बाहर के लोगों से बात नहीं होगी। जिसके बाद लोगों ने नाराजगी जताई।

ऑल वेदर रोड 70 प्रतिशत बन चुकी-

बता दें कि ऑल वेदर रोड को लेकर सुप्रीम कोर्ट के निर्देश पर गइित हाईपाॅवर कमेटी के समक्ष अपना पक्ष रखने पहुंचे। जहां गढ़वाल सभा समेत दूसरे संगठन के लोगों ने आॅल वेदर रोड के निर्माण का समर्थन किया। इसके साथ ही दमश्री के कल्याण सिंह ने कहा कि जो लोग ऑल वेदर रोड के निर्माण का विरोध कर रहे हैं, वो न सिर्फ राज्य विरोधी हैं, बल्कि राष्ट्रविरोधी भी हैं। ऑल वेदर रोड 70 प्रतिशत बन चुकी है। इसके साथ ही उन्होंने आगे कहा कि सड़क निर्माण रुकवाकर उत्तराखंड के विकास को बाधित करने का प्रयास किया जा रहा है। उन्होंने आगे कहा कि जब चीन देश के सामने एक बड़े संकट के रूप में खड़ा है तो सामरिक महत्व की इस सड़क का निर्माण किसी भी सूरत में नहीं रूकना चाहिए। इसके साथ ही रक्षा मंत्रालय भी सड़क की चैड़ाई न घटाने की मांग कर चुका है। इसी बीच उन्होंने यह भी कहा कि ऑल वेदर रोड के निर्माण के चलते लोगों ने बहुत दिक्कतें झेली हैं, लेकिन किसी ने विरोध नहीं किया। ये एक तरह से राज्य के लोगों की आॅल वेदर रोड के निर्माण को लेकर मूक सहमति है।

जो पेड़ काटे गए हैं, उनकी भरपाई को वृक्षारोपण हो-

वहीं उन्होंने आगे कहा कि ऑल वेदर रोड के समर्थन में हमेशा आवाज बुलंद की जाएगी। इसके साथ ही कहा कि ऑल वेदर रोड समेत तमाम दूसरी विकास योजनाओं को लेकर जो पेड़ काटे गए हैं, उनकी भरपाई को वृक्षारोपण हो। इस वृक्षारोपण के काम में राज्य के बेरोजगारों की सेवा ली जाए। जिससे उन्हें भी रोजगार मिल सके। इस अवसर पर गढ़वाल सभा के अध्यक्ष रोशन धस्माना, महासचिव गजेन्द्र भंडारी के साथ ही दूसरे लोग मौजूद रहे।

Related posts

शेयर बाजार में दिखा यश बैंक में घाटे का असर

bharatkhabar

महाराष्ट्र में टूटा कोरोना का रिकॉर्ड, एक दिन में 43 हजार केस दर्ज, ब्लड बैंक में खूनी की कमी

Saurabh

अमेरिका की चेतावनी, ‘सुधर जाए वरना वो दिन दूर नहीं जब आतंकी कर लेंगे पाकिस्तान पर कब्जा’

Breaking News