September 19, 2021 1:26 am
featured राजस्थान

कोरोना वायरस से राजस्थान के कोटा शहर में संक्रमित एक व्यक्ति की मौत, संक्रमित लोगों की संख्या 274 हुई

राजस्थान 1 कोरोना वायरस से राजस्थान के कोटा शहर में संक्रमित एक व्यक्ति की मौत, संक्रमित लोगों की संख्या 274 हुई

नई दिल्ली। कोरोना वायरस से राजस्थान के कोटा शहर में संक्रमित एक व्यक्ति की रविवार देर रात मौत हो गई। इस व्यक्ति ने हाल में कोई यात्रा नहीं की थी। इस बीच, राज्य में कोरोना वायरस संक्रमण के आठ नए मामले सामने आने के साथ ही राज्य में संक्रमित लोगों की कुल संख्या बढ़कर 274 हो गई है।अतिरिक्त मुख्य सचिव (स्वास्थ्य) रोहित कुमार सिंह ने बताया कि कोटा के एमबीएस अस्पताल में 60 वर्षीय एक व्यक्ति को निमोनिया, बुखार एवं खांसी की शिकायत के साथ भर्ती करवाया गया था। वह व्यक्ति कोरोना वायरस से संक्रमित पाया गया और रात 11 बजे उसकी मौत हो गई। सिंह ने बताया कि इस व्यक्ति ने हाल में कोई यात्रा नहीं की थी। हालांकि मरीज के इलाके से ही तब्लीगी जमात कार्यक्रम में शिरकत करने वाले कुछ लोग मिले हैं जो संक्रमित नहीं पाए गए हैं। अधिकारी पड़ताल कर रहे हैं।

चिकित्सकों, नर्सिंगकर्मियों सहित 50 से अधिक लोगों को क्वारंटीन किया गया  

जिले के सरकारी पीबीएम अस्पताल में एक महिला की मृत्यु के बाद चिकित्सकों, नर्सिंगकर्मियों सहित 50 से अधिक लोगों को आइसोलेशन केंद्र में भेजा गया है। अस्पताल में महिला की मौत के बाद कर्मचारियों में दहशत है। उनका कहना है कि जिस महिला का शव परिजनों को सौंपा गया था वह कोरोना वायरस से संक्रमित थी।

बीकानेर के पीबीएम अस्पताल प्रशासन ने 60 वर्षीय महिला की मौत के बाद कोरोना वायरस जांच की रिपोर्ट आए बिना ही शव शुक्रवार शाम को उसके परिजनों को सौंप दिया था। परिजनों ने शव का अंतिम संस्कार भी कर दिया।

इस संबंध में प्रशासन ने विभागीय जांच के आदेश दिए हैं। त्वरित प्रतिक्रिया बल ने मौके पर पहुंच कर महिला के अंतिम संस्कार में शामिल परिजनों को क्वारंटीन केन्द्र भेजा। बीकानेर के जिला कलेक्टर कुमार पाल गौतम ने बताया कि मामला प्रकाश में आने के बाद पीबीएम मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य और अस्पताल अधीक्षक से रिपोर्ट मांगी गई है।

बीकानेर के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. बीएल मीणा ने बताया कि मृतक महिला के परिवार के 20 सदस्यों, 15 पड़ोसियों और करीब 15 अस्पताल कर्मियों को आइसोलेशन केन्द्र में भेजा गया है। उन्होंने बताया कि पीबीएम अस्पताल में रेफर की गई महिला एक निजी अस्पताल में भर्ती थी। निजी अस्पताल के छह कर्मियों को भी आइसोलेशन वार्ड में भेजा गया है। गुप्ता ने बताया कि इस मामले में लापरवाही हुई है लेकिन शव परिजनों को सभी आवश्यक दिशानिर्देशों के तहत सुपुर्द किया गया था।

 

Related posts

देशभर में मनाई गई मकर संक्रांति…लोगों ने लगाई आस्था की डुबकी

shipra saxena

इतिहासकार रामचंद्र गुहा ने बीफ वाले ट्वीट को किया डिलीट

Ankit Tripathi

LoC पर 100 बंकरों का युद्ध स्तर पर भारत कर रहा है निर्माण

piyush shukla