amit shah येदुरप्पा वाले बयान पर बोले बीजेपी अध्यक्ष, 'मैंने गलती की, लेकिन कर्नाटक की जनता नहीं करेगी'

भारतीय जनता पार्टी अध्यक्ष अमित शाह ने हाल में कर्नाटक चुनाव प्रचार के दौरान अपने भाषण में गलती से येदुरप्पा को भ्रष्टाचार में नंबर वन कहे जाने पर अब अपना बयान दिया है। उन्होंने कहा शाह ने इसको एक अलग ही मोड़ देते हुए कहा कि उन्होंने तो गलती की है, लेकिन कर्नाटक की जनता गलती नहीं करेगी। शाह ने मैसुरु में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में यह बात कही।

 

amit shah येदुरप्पा वाले बयान पर बोले बीजेपी अध्यक्ष, 'मैंने गलती की, लेकिन कर्नाटक की जनता नहीं करेगी'

 

कर्नाटक में 12 मई को होने वाले विधानसभा चुनावों को लेकर सभी पार्टियां पूरी तैयारियों में लगी हैं। इसी जुगत में बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह कर्नाटक दौरे पर हैं। इस दौरान उन्होंने यहां एक प्रेस कांफ्रेंस कर कांग्रेस सरकार पर हमला बोला। शाह ने किसानों के मुद्दे पर सिद्धारमैया सरकार की आलोचना की और कहा कि इस सरकार में किसान मर रहे हैं। कांग्रेस पर हमला करने में वो इतने मग्न हो गए कि कब उन्होंने इस सब में अपने ही नेता को घेर लिया उनको पता ही नहीं चला।

 

दरअसल, प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान अमित शाह सिद्धारमैया सरकार के भ्रष्टाचार को गिना रहे थे। इस दौरान अमित शाह ने कहा कि मैं भ्रष्टाचार को लेकर डिटेल में नहीं जाना चाहता, लेकिन हाल ही में एक जज की टिप्पणी बताऊंगा। शाह ने कहा, ‘अभी-अभी सुप्रीम कोर्ट के एक रिटायर्ड जज ने कहा कि भ्रष्टाचार के लिए अगर स्पर्धा कर ली जाए तो येदुरप्पा सरकार को भ्रष्टाचार में नंबर वन का अवॉर्ड देना पड़ेगा।’ यानी अमित शाह मौजूदा मुख्यमंत्री के. सिद्धारमैया की आलोचना कर रहे थे और उनकी जुबान से अपने ही नेता बीएस येदुरप्पा का नाम निकल गया।

 

अमित शाह जब बोल रहे थे तो उनके दाहिनी तरफ खुद बीएस येदुरप्पा बैठे हुए थे। जबकि शाह की बाईं ओर पार्टी के एक और नेता बैठे हुए थे। इस दौरान अमित शाह ने भ्रष्टाचार में सिद्धारमैया की जगह येदुरप्पा सरकार का नाम लिया तो बाईं तरफ बैठे नेता ने उनके कान में इस गलती के बारे में बताया। जिसके बाद शाह को भी इसका एहसास हुआ और उन्होंने तुरंत अरे…कहते हुए कहा कि सिद्धारमैया सरकार को भ्रष्टाचार के लिए नंबर वन का अवॉर्ड देना पड़ेगा।

 

गौरतलब है कि 12 मई को कर्नाटक में 224 विधानसभा सीटों के लिए एक ही चरण में मतदान होगा और वोटों की गिनती 15 मी को होगी।

पाकिस्तान में भगत सिंह के दस्तावेज हुए सार्वजनिक, खत से पता चली ये खासियत

Previous article

रेलवे में भर्ती के लिए पदों की संख्या बढ़ी

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.