September 18, 2021 4:04 pm
Breaking News यूपी

बच्चों में विकास की गति को बढ़ाने के लिए ऑफलाइन कक्षाएं जरूरी

बच्चों में विकास की गति को बढ़ाने के लिए ऑफलाइन कक्षाएं जरूरी

लखनऊ: अनएडेड प्राइवेट स्कूल एसोसिएशन लगातार ऑफलाइन कक्षाओं को शुरू करने की मांग कर रहा है। इसके लिए एसओपी तैयार करके प्रदेश के डिप्टी सीएम डॉ. दिनेश शर्मा तक भी पहुंचाया गया है। वहीं डिप्टी सीएम ने आश्वासन दिया है कि शनिवार को मुख्यमंत्री से इस विषय पर चर्चा की जाएगी और निर्णय से अवगत कराया जाएगा।

क्यों जरूरी है ऑफलाइन कक्षाएं

अनएडेड प्राइवेट स्कूल एसोशिएशन के अध्यक्ष अनिल अग्रवाल ने भारतखबर.कॉम से विशेष बातचीत में ऑफलाइन कक्षाओं की खूबियों को अवगत कराया है। उन्होंने कहा है कि स्कूल आने से बच्चों में शारिरिक, मानसिक विकास की गति तेज होती। स्कूल में वे अपने उम्र के बच्चों के बीच रहते हैं। उनके साथ खेलते हैं, गिरते हैं, दौड़ते हैं और पढ़ते हैं। उनमें कॉन्फिडेंस बढ़ता है, उनके अंदर कॉम्पटीशन की भावना बढ़ती है और वे अपने आप को ग्रूम करता हैं।

ऑनलाइन क्लासेज रिप्लेसमेंट नहीं है: अनिल अग्रवाल

अनिल अग्रवाल ने कहा है कि लगभग दो सालों ने बच्चे ऑनलाइन क्लास करते आ रहे हैं। इससे उनमें टेक्नोलॉजी फ्रेंडली बनने में जरूर मदद मिली है लेकिन उनके अंदर कई खामियां भी पैदा हुई हैं। शारीरिक तौर पर उनकी भागीदारी कहीं नहीं है। स्कूल में स्पोर्ट्स कॉम्पटीशन होता था, बच्चों में उत्सुकता रहती थी, स्टेज कॉम्पटीशन होता है, जिसमें वे कॉन्फिडेंस डेवेलप करते थे। पिछले दो सालों से ऐसी प्रतियोगिताओं से दूर हैं। वे सिर्फ ऑनलाइन क्लास करते हैं, न वे टीचर्स से सवाल पूछ पाते हैं और ना ही उनके अंदर समझ डेवेलप हो रही है। ऑनलाइन क्लास एक विकल्प के तौर पर सही है लेकिन रिप्लेसमेंट नहीं है।

स्कूल को छोड़ कर आज सबकुछ खुला है

वहीं अनिल अग्रवाल ने कहा है कि आज प्रदेश में स्थितियां सामान्य हैं। सब धीरे धीरे खुल रहा है। केवल स्कूल ही बंद हैं। इसका सबसे ज्यादस प्रभाव बच्चों पर पड़ रहा है। उनके अंदर डेवलोपमेन्ट नहीं हो पा रही है। ये चिंता का विषय है। उन्होंने कहा, ‘हम लगातार स्कूल खुलवाने की कोशिशों में जुटे हुए हैं। उपमुख्यमंत्री डॉ दिनेश शर्मा से हमने दो बार मुलाकात की है और उन्हें स्कूल खोलने से संबंधित एसओपी भी दी है। उन्होंने आश्वासन भी दिया है। देखते हैं सरकार क्या फैसला लेती है।’

स्कूल से सुरक्षित कोई जगह नहीं

अनएडेड प्राइवेट स्कूल एसोसिएशन के अध्यक्ष का कहना है, ‘मैं अभिभावकों को यकीन दिलाता हूं कि स्कूल परिसर से सुरक्षित कोई जगह नहीं है। यहां बच्चों को पूरी तरह कोविड प्रोटोकॉल का पालन कराया जाएगा। सुरक्षा के लिहाज से एसओपी में कई बातों को हाइलाइट किया गया है। सीनियर सेंक्शन के बच्चों को स्कूल बुलाया जाएगा। स्थित को देखते हुए लोअर सेक्शन के बच्चों को बुलाया जाएगा। ये सब कोरोना प्रोटोकॉल के पालन के साथ ही होगा।’

Related posts

बिहार: विशेष राज्य की मांग को लेकर जन अधिकार पार्टी का एक दिवसीय धरना

mahesh yadav

जमीनी विवाद में तीन व्यक्तियों की मौत, चार घायल

bharatkhabar

जिल बाइडेन ने भारतीय मूल की गरिमा को दिया डिजिटल निदेशक का पद, जानें क्या बोली बाइडेन टीम

Aman Sharma