September 23, 2021 2:23 pm
featured यूपी

पारंपरिक कला संरक्षित करने के लिए शुरू की गयी ओडीओपी योजना

sidharth पारंपरिक कला संरक्षित करने के लिए शुरू की गयी ओडीओपी योजना

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के हथकरघा एवं वस्त्रोद्योग मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह ने कहा कि देश में लगभग 50 लाख हथकरघा बुनकर है। उत्तर प्रदेश में लगभग 2.58 लाख व्यक्ति हथकरघा बुनाई का कार्य कर रहे हैं। हथकरघा बुनकरों को प्रोत्साहित करने एवं पारंपरिक कला को संरक्षित करने के उद्देश्य से एक जिला एक उत्पाद (ओडीओपी) कार्यक्रम की शुरूआत की गई। इसके तहत कारीगरों को प्रोत्साहन से लेकर कई प्रकार की सुविधाएं उपलब्ध कराई जा रही हैं।\

श्री सिंह शनिवार आवास विकास परिषद सभागार, में राष्ट्रीय हथकरघा दिवस पर आयोजित बुनकर सम्मान समारोह में बोल रहे थे। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार बुनकरों की आर्थिक स्थिति को बेहतर बनाने की दिशा में तेजी से कार्य कर रही है। हथकरघा उत्पादों को निर्यात को बढ़ावा दिया जा रहा है। इससे कारीगरों को उनके उत्पादों का उचित मूल्य मिलेगा और राज्य की अर्थव्यवस्था भी मजबूत होगी।

उन्होंने कहा कि राज्य सरकार पारंपरिक कौशल को निखारने और कारीगरों के उत्पादों को वैश्विक पहचान दिलाने के लिए विभिन्न प्रकार की योजनाएं चला रही है। क्लस्ट विकास योजना इनमें से एक है। उन्होंने कहा कि अधिक से अधिक बुनकर क्लस्टर से जुड़कर इस योजना का लाभ लें। क्लस्टर योजना के के तहत राज्य सरकार बुनकरों को प्रशिक्षण, विपणन में सहायता, कच्चा माल की उपलब्धता जैसी तमाम सुविधाएं उपलब्ध करायेगी। उन्होंने कहा कि क्लस्टर के तहत कार्य करने से खदीददार स्वयं उन तक पहुंचेंगे। इसके लिए बुनकरों को पुराने ढर्रें से निकल कर आगे आना होगा। सरकार 24 घण्टे बुनकरों की मद्द के लिए तैयार है।

Related posts

इनकम टैक्स रिटर्न भरने वालों को राहत, बढ़ाई गई अंतिम तारीख

pratiyush chaubey

5पी के आधार पर चुने मोदी कैबिनेट के नए मंत्री

Pradeep sharma

सेना ने बरामद किया लश्कर कमांडर सहित तीन आतंकियों के शव

Pradeep sharma