अब ऑनलाइन होंगे मां विंध्यवासिनी के दर्शन, ये समाज उतरा विरोध में

मिर्जापुर: मिर्जापुर में मां विंध्यवासिनी के दर्शन अब ऑनलाइन होंगे। कोरोना को देखते हुए जिला प्रशासन ने ये निर्णय लिया है। वहीं जिला कमिश्नर की तरफ से लिए गए इस निर्णय पर अब विरोध भी शुरू हो गया है।

इस मामले में पंडा समाज अब विरोध पर उतर आया है। माता विंध्यवासिनी के ऑनलाइन दर्शन पर पंडा समाज ने अपना विरोध जताया है। वहीं एक कदम आगे बढ़ते हुए पंडा समाज ने इस फैसले पर मिर्जापुर के नगर विधायक को चेतावनी भी दी है। पंडा समाज ने इसके लिए धरने पर बैठने की चेतावनी दी है।

ऑनलाइन हो पाएंगे माता के दर्शन

वहीं उधर प्रशासन ने मां विंध्यवासिनी के ऑनलाइन दर्शन की तैयारी भी पूरी कर ली है। माता विंध्यवासिनी के धाम में अब ऑनलाइन कैमरा लगाया जा रहा है।

जिला प्रशासन की वेबसाइट भी अब मां विंध्यवासिनी के दर्शन करवाएगी। जिले के कमिश्नर ने इस मामले में पंडा समाज के विरोध को नजरअंजाज कर दिया है और भक्तों को माता रानी के दर्शन की तैयारी पूरी कर ली है।

मिर्जापुर में भी बढ़ने लगे केस

बता दें कि जिले में तेजी से कोरोना का संक्रमण बढ़ रहा है। रोज नए नए केस सामने आ रहे हैं. मिर्जापुर का मां विंध्यवासिनी धाम अलौकिक धाम है।

यहां पर देश ही नहीं बल्कि विदेश से भी पर्यटक आते हैं और माता के दर्शन करते हैं। यहां पर फिल्मी कलाकारों के अलावा राष्ट्रपति से लेकर सीएम योगी तक माता के दर्शन कर चुके हैं। ये धाम अपनी दिव्यता के लिए विश्वविख्यात है।

नवरात्र में लगता है भक्तों का तांता

जिला प्रशासन ने भक्तों और विदेशी सैलानियों को कोरोना के संक्रमण से बचाने के लिए ये फैसला लिया है। वहीं पंडा समाज का कहना है कि इस तरीके से अचानक माता रानी के मंदिर के दर्शन न हो पाने से भक्त मायूस होंगे और उकी भी जीविका पर असर पड़ेगा।

पंडा समाज चाहता है कि जिला प्रशासन उसकी मांगों पर गौर करे। पंडा समाज ने कहा कि अगर उसकी मांगें नहीं मानी गईं तो वो धरना-प्रदर्शन का सहारा लेगा और अपनी मांगों को मनवायेगा।

अखिल भारतीय उद्योग व्यापार मंडल ने लिया बड़ा फैसला, ये होगा आप पर असर

Previous article

आंकड़ों में समझिए पहले चरण के पंचायत चुनाव का गणित, 18 जिलों में वोटिंग

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.

More in featured