featured देश साइन्स-टेक्नोलॉजी हेल्थ

अब घर बैठे खुद कर सकेंगे कोविड-19 की टेस्टिंग, एप पर आएगी रिपोर्ट

self kit अब घर बैठे खुद कर सकेंगे कोविड-19 की टेस्टिंग, एप पर आएगी रिपोर्ट

अमेरिका की तरह भारत में भी अब लोग अपना कोरोना टेस्ट खुद से ही घर पर कर पाएंगे। दरअसल पुणे की फार्मा कंपनी मायलेब ने कोविसेल्फ कोविड-19 होम टेस्ट किट बनाई है। जिसे ICMR ने मंजूरी दे दी है। जिसकी कीमत कंपनी ने 250रुपए तय की है।

‘अगले हफ्ते तक बाजार में आ जाएगी किट’

कंपनी के डायरेक्टर ने बताया कि अगले हफ्ते के आखिर तक ये देश के ज्यादातर जगहों पर उपलब्ध होगी। देशभर की 7 लाख से ज्यादा फार्मासिस्ट स्टोर पर और हमारे ऑनलाइन पार्टनर के जरिए मिलने लगेगी। उन्होंने कहा कि कंपनी की क्षमता प्रोडक्शन हर हफ्ते 70 लाख टेस्ट किट की है, लेकिन कंपनी की योजना है कि अगले 15 दिनों में प्रोडक्शन क्षमता को बढ़ाकर 1 करोड़ टेस्ट किट प्रति हफ्ते किया जाए।

तीन और कंपनियों को किट की जल्द मिलेगी मंजूरी

ICMR के डीजी ने बताया कि तीन और कंपनियों की किट भी एक हफ्ते के अंदर बाजार में आने वाली हैं। वो अभी अप्रूवल प्रक्रिया में है, और सभी का लगभग एक ही तरीका होगा। बाजार से किट खरीदें, ऐप डाउनलोड करें और निर्देश पढ़कर टेस्ट करें। फिर उसकी डिटेल क्लिक कर ऐप के जरिए जानकारी दें।

बता दे ICMR भी लगातार रैपिड एंटीजन टेस्ट पर जोर दे रहा है। क्योंकि इसका रिजल्ट जल्दी पता लग जाता है, और मरीज को जल्द आइसोलेशन कर पाते हैं। जिससे संक्रमण पूरे परिवार में नहीं फैलता।

क्या होगा तरीका ?

टेस्ट किट खरीदने के बाद मोबाइल एप मायलैब कोविसेल्फ डाउनलोड करना होगा और जरूरी डिटेल्स भरनी होंगी। किट में खास लिक्विड वाली एक ट्यूब, नाक में स्वेब लेने की स्टिक। सैंपल की जांच के लिए टेस्ट कार्ड और एक खाली पाउच होगा। अब जरूरी निर्देश पढक़र टेस्ट करे, कार्ड पर सी और टी लिखा होता है। सिर्फ सी के आगे लाल निशान उभरा इसका मतलब रिपोर्ट नेगेटिव। और अगर सी और डी दोनों के सामने लाल निशा आया तो रिपोर्ट पॉजिटिव है। टेस्ट किट का सभी सामान साथ मिले खाली पाउच में रखकर बंद कर दें। कुछ देर बाद कोरोना रिपोर्ट एप पर आ जाएगी।

Related posts

ब्रिटेन में कोरोना का कहर, एक दिन में सामने आए 78 हजार से अधिक मरीज

Rahul

सर! यहां साड़ी में लिपटी एक लाश पड़ी है, जल्दी से आ जाइए, शव देख पुलिस भी हैरान

Shailendra Singh

कुमाऊं में टूटा 124 साल का रिकॉर्ड, अल्मोड़ा में कई लोग हुए लापता

Kalpana Chauhan