rahul gandhi 7591 डाटा लीक मामला: बीजेपी का पलटवार, कांग्रेस के ऐप से सिंगापुर के 'दोस्तों' को डाटा लीक करने का आरोप

डेटा लीक मामले को लेकर कांग्रेस और बीजेपी के बीच खींचतान जारी है। हर दोंनों पार्टियां एक-दूसरे पर वार करती दिख रही है। कुछ नई जानकारी के साथ अपने आरोपों को मजबूती देने की कोशिश होती दिख रही है। प्रेस कांफ्रेंस से लेकर सोशल मीडिया तक दोंनों पार्टियां एक-दूसरे को गलत साबित करने का हर भरसक प्रयास कर रही है।

 

rahul gandhi 7591 डाटा लीक मामला: बीजेपी का पलटवार, कांग्रेस के ऐप से सिंगापुर के 'दोस्तों' को डाटा लीक करने का आरोप

 

रविवार को सेशल मीडिया पर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने एक फ्रैंच हैकर का हवाला देकर ट्विटर पर नरेंद्र मोदी पर निशाना साधते हुए पोस्ट किया था। उन्होंने नरेंद्र मोदी ऐप से डाटा लीक होने का आरोप लगाते हुए कहा था,’हाय, मेरा नाम नरेंद्र मोदी है। मैं भारत का प्रधानमंत्री हूं। जब आप मेरे आधिकारिक ऐप पर लॉग इन करते हैं तो मैं आपकी सारी जानकारी अमेरिकी कंपनियों के अपने दोस्तों को दे देता हूं।’
राहुल गांधी के इस वार पर पलटवार करते हुए बीजेपी के आईटी सेल के प्रमुख अमित मालविय ने उन्हीं के अंदाज में जवाब दिया है। उन्होंने लिखा, ‘हाय, मेरा नाम राहुल गांधी है। मैं देश की सबसे पुरानी पार्टी का अध्यक्ष हूं। जब आप हमारे आधिकारिक ऐप पर लॉग इन करते हैं तो मैं आपका सभी डेटा सिंगापुर में अपने दोस्तों को दे देता हूं।’

अपने इस ट्वीट के साथ अमित मालवीय ने कुछ आंकड़े भी शेयर किए हैं। जिसमें उन्होंने कुछ आईपी एड्रेस के साथ डेटा सिंगापुर ट्रांसफर होने का दावा किया है।

इसके अलावा अमित मालवीय ने कांग्रेस की वेबसाइट के आधार भी कुछ आरोप लगाए हैं। उन्होंने कांग्रेस वेबसाइट Inc.in के कुछ स्क्रीनशॉट शेयर किए हैं। जिसमें उस हिस्से को दिखाया गया है, जहां ये जानकारी दी गई है कि निजी जानकारी किन्हें साझा की जाती हैं। साथ ही जानकारी सुरक्षित रखने के लिए क्या-क्या विकल्प अपनाए जाते हैं, उस जानकारी का भी स्क्रीनशॉट शेयर किया गया है। कांग्रेस वेबसाइट के जरिए अमित मालवीय ने जो स्क्रीनशॉट हाइलाइट किया है और उसमें लिखा है, ‘वेबसाइट के बेहतर इस्तेमाल के लिए कांग्रेस आपकी जानकारी कंसल्टेंट्स, वेंडर्स और दूसरे सर्विस दाता या वॉलिंयटर्स को दे सकती है, जो हमारे साथ काम करते हैं या जिन्हें हमारे साथ काम करने के लिए आपकी जानकारी की जरूरत होती है।’

 

अमित मालवीय के इस आरोप पर कांग्रेस ने सफाई दी है। कांग्रेस की सोशल मीडिया प्रमुख दिव्या स्पंदना राम्या ने कहा है कि हम कांग्रेस ऐप के जरिए कोई भी निजी जानकारी नहीं मांगते हैं और ये बहुत पहले खत्म कर दिया गया है. राम्या ने दावा किया कि इसका इस्तेमाल सिर्फ सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए जाता था। उन्होंने कहा, ‘हम सदस्यता के लिए डाटा इकट्ठा करते हैं और ऐसा हमारी वेबसाइट Inc.in के जरिए किया जाता है, जो पूरी तरह सुरक्षित है।’

 

कैसा रहा कपिल का नया शो-जाने

Previous article

पाकिस्तान में दुनिया की पहली ‘ट्रांसजेंडर न्यूज एंकर’

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.