panchyat 1 पंचायत चुनाव के लिए नाम वापसी की प्रक्रिया खत्म, जानिए कितने उम्मीदवार हैं मैदान में

लखनऊ: पंचायत चुनाव के लिए नामांकन वापस लेने की तिथि अब पूरी हो गई है, उम्मीदवारों की लिस्ट ने फाइनल रूप ले लिया है। कुल 18 जिलों में चुनाव को लेकर भारी दिलचस्पी देखने को मिल रही है।

जिला पंचायत सदस्य के लिए 11 हजार से अधिक प्रत्याशी

प्रदेश में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव में कुछ दिन बचे हैं, पहले चरण का चुनाव 15 अप्रैल को होगा। इसके लिए नामांकन का काम पूरा कर लिया गया है, नाम वापसी की समय सीमा भी पूरी हो गई है। पहले चरण के 779 जिला पंचायत वार्ड में कुल 11749 प्रत्याशी मैदान में हैं। इस बार 12 हजार से अधिक नामांकन दाखिल किए गए थे, जिनमें से कुछ रद्द कर दिए गए और कई उम्मीदवारों ने नाम वापिस ले लिया है।

प्रधान पद के लिए एक लाख से अधिक लोग मैदान में

यूपी पंचायत चुनाव में पहले चरण के लिए 18 जिलों से ग्राम प्रधान पद के लिए भारी दिलचस्पी देखने को मिली। कुल 14789 प्रधान पदों के लिए इस बार 114954 नामांकन पत्र भरे गए थे। जिनमें से लगभग 7 हजार से अधिक लोग पत्र रद्द होने और नाम वापिस लेने के कारण रेस से बाहर हो गए। फाइनल सूची में प्रधान पद के लिए 108562 लोग डटे हुए हैं।

पंचायत चुनाव के लिए नाम वापसी की प्रक्रिया खत्म, जानिए कितने उम्मीदवार हैं मैदान में

पंचायत चुनाव

इनके अलावा क्षेत्र पंचायत सदस्य के लिए 71418 प्रत्याशी और ग्राम पंचायत सदस्य के लिए 107283 लोग अपनी किस्मत आजमा रहे हैं। इस चुनाव में इस बार आम लोगों की भी दिलचस्पी ज्यादा दिखाई दे रही है। इसी का परिणाम है कि पंचायत चुनाव की चर्चा हर गली-नुक्कड़ पर खूब हो रही है।

कोरोना के बीच सुरक्षित चुनाव की तैयारी

15 अप्रैल को कुल 18 जिलों में कोरोना गाइडलाइन का पालन करते हुए वोट डाले जायेंगे। चुनाव आयोग की तरफ से शांतिपूर्ण चुनाव संपन्न करवाने पर लगातार जोर दिया जा रहा है। सुरक्षा व्यवस्था के साथ-साथ कोरोना से बचाव के भी इंतजाम किए गए हैं। सोशल डिस्टैंसिंग, मास्क और सैनिटाइजर को प्राथमिकता दी जा रही है। प्रचार में भारी भीड़ लगाने पर रोक है, सिर्फ 5 लोग ही एक साथ प्रचार अभियान में हिस्सा ले पायेंगे।

पुलिस महानिरीक्षक हरिद्वार ने RSS से मांगा सहयोग, कहा पहले की तरह सहयोग करें

Previous article

फिर से लौट रहा लॉकडाउन, मध्यप्रदेश के शहरी क्षेत्रों में शुक्रवार शाम से सोमवार तक लॉकडाउन

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.

More in featured