scott morisson ऑस्ट्रेलिया की संसद में बना नया कानून, फेसबुक और गूगल जैसी दिग्गज टेक कंपनियों को लगा झटका

ऑस्ट्रेलिया – आज ऑस्ट्रेलिया की संसद में एक कानून पास हुआ है। जिसके तहत अब टेक फर्मों को समाचार के लिए भुगतान करना जरूरी हो गया है। सरकार ने कहा कि ऑस्ट्रेलिया में सार्वजनिक हित की पत्रकारिता को बनाए रखने में ये कानून मदद करेगा। इस ऐतिहासिक कानून के पारित होने के बाद से अब फेसबुक और गूगल जैसी दिग्गज टेक कंपनियों को स्थानीय मीडिया कंपनियों को न्यूज के लिए पैसे देने होंगे।

इस कानून के तहत मीडिया संस्थानों की जवाबदेही होगी तय –
गौरतलब है कि इस ऐतिहासिक फैसले पर पूरी दुनिया की नजर थी क्योंकि इस कानून के कारण अब मीडिया संस्थानों की जवाबदेही तय होगी। जानकारों का मानना है कि अब गूगल और फेसबुक पर कटेंट परोसते वक्त लोग सावधानी पूर्वक निवेश करेगे। साथ ही नियमो के साथ कंपनियों के आपसी विवाद को शांत कराने में भी मदद मिलेगी। खास बात ये है कि इस कानून के बाद गूगल अब जो कुछ भी दिखाएगा उसके लिए उसे भुगतान करना होगा। ऐसे ही फेसबुक जो भी न्यूज के तहत परोसेगा उसे उसका भुगतान करना पड़ेगा। इस नए कानून को लेकर दोनों काफी चिंतित है।

यह है पूरा मामला –
बता दे कि फेसबुक ने अपने पेज पर न्यूज पब्लिश करने से लेकर भूकंप-बाढ़ जैसे आपातकालीन जानकारी शेयर करने पर भी रोक लगा दी थी। जिसके चलते ऑस्ट्रेलियन प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन ने सख्ती दिखाई थी। जिसके बाद फेसबुक बैकफुट पर आया और उसने सरकार के समझौता कर लिया था। फेसबुक ने अपना बयान जारी करते हुए कहा कि हम ऑस्ट्रेलिया सरकार के साथ एक समझौते पर सहमत हो गये है। अब बैन हटा लिया गया है। हमने ऐसे फ्रेमवर्क का समर्थन करने का फैसला किया है जो ऑनलाइन प्लेटफॉर्म और पब्लिशर्स के बीच इनोवेशन और सहयोग को बढ़ाता हो। लेकिन अब फेसबुक और गूगल इन दोनों ही कंपनियों ने स्थानीय मीडिया कंपनियों को भुगतान करने वाली नीति का विरोध करते हुए कहा कि ये सही नही है। हालंकि कानून पारित होने के बाद उन्हें इसके नियमों को मानना ही होगा। साथ ही आपको आपको बता दे कि ये कानून साल 2021 के अंत में ऑस्ट्रेलिया में लागू होगा।

फेक न्यूज के लद गए दिन, जानिए सरकार ने क्यों बनाया यह नियम

Previous article

राजस्थान: जमीन विवाद में अपनो का कत्ल, बड़े भाई ने छोटे भाई को उतारा मौत के घाट

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.