January 18, 2022 7:35 am
featured दुनिया देश

आज भारत आएंगे रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन, दोनों देशों के बीच होंगे कई अहम समझौते

11 1638712153 आज भारत आएंगे रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन, दोनों देशों के बीच होंगे कई अहम समझौते

रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन आज भारत दौरे पर आ रहे हैं। व्लादिमीर पुतिन दिल्ली में 21वां भारत-रूस वार्षिक शिखर सम्मेलन में हिस्सा लेंगे। पुतिन का भारत दौरा रक्षा समझौते के लिए अहम माना जा रहा है।

आज भारत पहुंच रहे हैं रूसी राष्ट्रपति पुतिन, दुनिया की टिकी निगाहें-russian  president vladimir putin new delhi visit today 6 december india russia  annual summit | News24

आज भारत आएंगे राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन

रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन आज भारत दौरे पर आ रहे हैं। व्लादिमीर पुतिन दिल्ली में 21वां भारत-रूस वार्षिक शिखर सम्मेलन में हिस्सा लेंगे। पुतिन का भारत दौरा रक्षा समझौते के लिए अहम माना जा रहा है। पुतिन पीएम मोदी को एस-400 एयर डिफेंस सिस्टम का मॉडल गिफ्ट करेंगे। इसके अलावा AK-203 असॉल्ट राइफल सौदा महत्वपूर्ण होगा। इसके अलावा दोनों नेताओं के बीच सीधी और अनौपचारिक बातचीत का भी सत्र होगा। इस कड़ी में ही दोनों देशों के बीच पहली 2+2 वार्ता होगी।

शाम को हैदराबाद हाउस में द्विपक्षीय मुलाकात

आज शाम हैदराबाद हाउस में दोनों नेताओं के बीच द्विपक्षीय मुलाकात होगी जिसमें दोनों नेता ऊर्जा से लेकर अंतरिक्ष प्रौद्योगिकी और हथियार उत्पादन के क्षेत्र में कई डील करेंगे। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, रूस के राष्ट्रपति पुतिन दोपहर बाद दिल्ली पहुंचेंगे। वह सिर्फ 6-7 घंटे भारत में होंगे। इस बीच शाम 5:30 बजे हैदराबाद हाउस में दोनों नेताओं के बीच द्विपक्षीय मुलाकात होगी। पुतिन की इस भारत यात्रा पर पूरे विश्व की निगाहें होंगी।

2019 के बाद पुतिन और पीएम मोदी की मुलाकात

बता दें कि विदेश और रक्षा मंत्रियों की इस संयुक्त बैठक का फैसला पीएम मोदी और राष्ट्रपति पुतिन के बीच अप्रैल 2021 में हुई फोन पर हुई बातचीत के दौरान तय हुआ था। 2019 के बाद पहली बार पुतिन और मोदी की आमने-सामने की मुलाकात होने जा रही है। मोदी और पुतिन की आखिरी मुलाकात नवंबर 2019 में ब्रासीलिया में हुई थी।  इसके बाद अब जाकर मोदी और पुतिन 21वें दौर की भारत-रूस शिखर वार्ता के लिए एक दूसरे से सीधी मुलाकात करेंगे।

एस-400 एयर डिफेंस मिसाइल सिस्टम की डील अहम

इस मुलाकात के साथ भारत और रूस की दोस्ती एक और नया इतिहास रचेगी। लेकिन इससे भी ज्यादा अहम होगी एस-400 एयर डिफेंस मिसाइल सिस्टम की डील है। जिसे लेकर रूस और भारत के बीच 5 अरब डॉलर से अधिक के सौदे पर समझौता हुआ था। इस मुलाकात में भारत-रूस मिलकर एस-400 की आपूर्ति में आ रही मामूली बाधाओं को दूर करने का प्रयास भी करेंगे। भारत और रूस के बीच पहले से फाइनल हो रखी इल डील पर अमेरिका की सबसे ज्यादा निगाहें होंगी।  इस डील पर अमेरिका ने भारत को कड़े प्रतिबंधों की धमकी तक दी है।

रूस के विदेश और रक्षा मंत्री भी पहुंचेंगे भारत

भारत के साथ 2+2 वार्ता में शामिल होने के लिए रूस के विदेश मंत्री सर्गेई लावरोव और रूस के रक्षा मंत्री सर्गेई शोइगू भी दिल्ली में होंगे। जहां वो भारत में अपने समकक्ष विदेश मंत्री एस जयशंकर और रक्षामंत्री राजनाथ सिंह के साथ अलग से मीटिंग करेंगे।

Related posts

उत्तराखंड में चक्रवाती तूफान ‘यास’ का कितना खतरा ? जानिए वैज्ञानिकों का अनुमान

pratiyush chaubey

Chamoli Disaster: नई झील से डरने की जरूर नहीं, सेटेलाइट से रखी जा रही है नजर- सीएम रावत

Yashodhara Virodai

जम्मू-कश्मीर: सुरक्षाबलों की आकंतियों से मुठभेड़ में दो जवान शहीद, एक आतंकी ढेर

Rani Naqvi