November 30, 2021 7:42 pm
featured देश

पेगासस मामला : सुप्रीम कोर्ट ने गठित की 3 सदस्यीय समिति, 2 महीने के भीतर सौंपेगी अपनी रिपोर्ट

supreme court 1630531682 पेगासस मामला : सुप्रीम कोर्ट ने गठित की 3 सदस्यीय समिति, 2 महीने के भीतर सौंपेगी अपनी रिपोर्ट

पेगासस मामला ।। सुप्रीम कोर्ट में पेगासस जासूसी मामले की स्वतंत्र जांच के लिए दायर याचिका पर आज यानी बुधवार को अपना फैसला सुना दिया गया है। मामले की सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने पेगासस जासूसी मामले की स्वतंत्र जांच के लिए 3 सदस्य कमेटी का गठन किया है। साथ ही कोर्ट ने सख्त निर्देश दिए हैं कि लोगों की जासूसी किसी भी कीमत पर स्वीकार्य नहीं है। 

3 सदस्य समिति का हुआ गठन

सुप्रीम कोर्ट ने मामले की स्वतंत्र जांच के लिए 3 सदस्य समिति का गठन किया है। जिसमे सुप्रीम कोर्ट के रिटायर्ड जज जस्टिस आर वी रवींद्रन, पूर्व आईपीएस अधिकारी आलोक जोशी और संदीप ओबराय को शामिल किया गया है।

 8 सप्ताह में सौंपनी होगी रिपोर्ट

सुप्रीम कोर्ट के इस फैसले के तहत 3 सदस्य समिति को पेगासस जासूसी मामले की स्वतंत्र जांच के लिए 8 सप्ताह का समय दिया गया है। और इसी समय सीमा के भीतर ही मामले की पूरी जांच करने के बाद समिति को अपनी रिपोर्ट सुप्रीम कोर्ट को सौपनी होगी।

आपको बता दें इससे पहले 13 सितंबर को सुप्रीम कोर्ट ने मामले की सुनवाई के दौरान चीफ जस्टिस एनवी रमण, न्यायमूर्ति सूर्य कांत और न्यायमूर्ति हिमा कोहली की पीठ ने मामले को सुरक्षित रखते हुए कहा था कि कोर्ट केवल यह जानना चाहता है। कि क्या केंद्र सरकार ने नागरिकों की कथित जासूसी के लिए अवैध तरीके के रूप से पेगासस सॉफ्टवेयर का दुरुपयोग किया है या नहीं।

 वहीं आज की सुनवाई के दौरान न्यायमूर्ति सूर्यकांत और हिमा कोहली की पीठ ने केंद्र की रवैए पर टिप्पणी करते हुए कहा की केंद्र को यहां आकर अपने रुख को सही ठहराना चाहिए था और अदालत के सामने मूकदर्शक नहीं बनना चाहिए था।

Related posts

रक्षा मंत्री राजनाथ की चीन को नसीहत, कहा- भारत मुहतोड़ जवाब देने में सक्षम

Shagun Kochhar

सांसद नरेश अग्रवाल के प्रतिनिधि की गोली मारकर हत्या

kumari ashu

सीएम अमरिंदर सिंह-नवजोत सिंह से तनातनी के बीच भाजपा का बयान, काम करो या पद छोड़ो

bharatkhabar