September 29, 2022 12:34 am
featured Uncategorized देश

हरियाणा: किसानों के सिर फोड़ने के आदेश देने वाले SDM का तबादला, लाठिचार्ज पर हरियाणा सरकार का स्टैंड अभी भी कायम

Karnal SDM Ayush Sinha हरियाणा: किसानों के सिर फोड़ने के आदेश देने वाले SDM का तबादला, लाठिचार्ज पर हरियाणा सरकार का स्टैंड अभी भी कायम

हरियाणा के करनाल में किसानों पर हुए लाठीचार्ज को लेकर अब बड़ी खबर सामने आ रही है। हरियाणा सरकार ने किसानों का सिर फोड़ने के आदेश देने वाले करनाल SDM का तबादला कर दिया है।

किसानों के सिर फोड़ने के आदेश देने वाले SDM का तबादला

हरियाणा के करनाल में किसानों पर लाठीचार्ज का मुद्दा हर दिन गर्माता जा रहा है। विपक्ष जहां सरकार पर इसको लेकर हमलावर है तो वहीं किसान लगातार इसके विरोध में प्रदर्शन पर प्रदर्शन कर रहे हैं। वहीं लाठीचार्ज के दौरान किसानों का सिर फोड़ देने का आदेश देने वाले SDM  को लेकर बढ़ रहे विवाद पर अब हरियाणा सरकार ने बड़ा एक्शन लिया है। सरकार ने करनाल SDM आयुष सिन्हा का तबादला कर दिया है।

नागरिक संसाधन सूचना विभाग में हुई नियुक्ती

करनाल के एसडीएम आयुष सिन्हा का बुधवार को तबादला कर दिया गया है। उन्हें सरकार ने नागरिक संसाधन सूचना विभाग का अतिरिक्त सचिव नियुक्त किया है। बता दें कि करनाल में पुलिस ने मुख्यमंत्री मनोहर लाल का विरोध कर रहे किसानों पर पिछले शनिवार को जमकर लाठीचार्ज किया था। इस बीच एक वीडियो भी सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हुआ। वीडियो में करनाल के एसडीएम आयुष सिन्हा पुलिसकर्मियों को सख्ती बरतने का आदेश दे रहे हैं। इस दौरान उन्होंने कहा कि नाके से आगे कोई नहीं जाना चाहिए, अगर कोई जाए तो उसका सिर फोड़ दो।

लाठीचार्ज में लगभग 10 किसानों को चोट आईं थी

इस लाठीचार्ज में लगभग 10 किसानों को चोट आईं थी। जिसके बाद से ही इसको लेकर राजनीति भी गरमा गई थी। कांग्रेस ने सरकार पर जमकर हमलावर होने शुरू कर दिया था। वहीं किसान नेताओं ने भी उसी दिन पूरे प्रदेश में बंद बुला दिया था। हालांकि अभी भी हालात जस के तस बने हुए हैं। विपक्ष सरकार पर इस बर्बरता को लेकर जमकर कटाक्ष कर रहा है। कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने ट्वीट कर हरियाणा सरकार पर इसको लेकर तंज कसा था।

हरियणा सरकार का स्टैंड अभी भी कायम

एक ओर जहां विपक्ष किसानों पर लाठीचार्ज को लेकर सरकार पर हमलावर है तो दूसरी ओर हरियाणा सरकार का स्टैंड कायम है। हरियाणा के कृषि मंत्री कंवरपाल गुर्जर ने इस लाठीचार्ज को जायज ठहराया। उन्होंने कहा कि कानून व्यवस्था सरकार का सबसे पहला काम है। करनाल के एसएचओ हरजिंदर सिंह को कौम का गद्दार बताए जाने पर उन्होंने आंदोलनकारियों के सामने सवाल खड़ा किया कि आखिर आंदोलन किसानों का है या फिर कौम का? उन्होंने कहा कि इससे कुछ लोगों की मंशा साफ पता लगती है।

Related posts

Azam Khan Bail: दो साल बाद जेल से रिहा हुए आजम खां, दोनों बेटों व शिवपाल यादव ने किया स्वागत

Rahul

कर्नाटक चुनाव मामला: कांग्रेस का बड़ा बयान, येदियुरप्पा के बेटे पर अपने दो विधायकों को बंधक बनाने लगाया आरोप

rituraj

उत्तराखंड के इस शहर में पूरी तरह लगा लॉकडाउन, बाजार से लेकर गालियां तक हुई सूनी

Rani Naqvi