featured देश

सुष्मिता देव ने कांग्रेस छोड़ थामा TMC का हाथ, सिब्बल बोले- कांग्रेस नेताओं का दर्द बाहर आया

899655 sushmita dev joins tmc सुष्मिता देव ने कांग्रेस छोड़ थामा TMC का हाथ, सिब्बल बोले- कांग्रेस नेताओं का दर्द बाहर आया

कांग्रेस में युवा नेताओं का पार्टी छोड़कर जाने का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है। इसी कड़ी में सोमवार को महिला कांग्रेस की राष्ट्रीय अध्यक्ष और पूर्व सांसद सुष्मिता देवन ने पार्टी से इस्तीफा दे दिया है।

सुष्मिता देव ने कांग्रेस छोड़ थामा TMC का हाथ

कांग्रेस में एक के बाद एक दिग्गज युवा नेता पार्टी छोड़कर जा रहे हैं। कोई बीजेपी का दामन थाम रहा है तो कोई TMC के साथ हो लिया है। इसी बीच कांग्रेस को सोमवार को एक और झटका लगा है। महिला कांग्रेस की राष्ट्रीय अध्यक्ष और पूर्व सांसद सुष्मिता देव ने पार्टी से इस्तीफा सौंपकर TMC का दामन थाम लिया। उन्होंने कोलकाता में पार्टी महासचिव अभिषेक बनर्जी की मौजूदगी में तृणमूल कांग्रेस की सदस्यता ली।

ट्विटर पर पहले ही दे दिए थे पार्टी छोड़ने के संकेत

सुष्मिता देव कांग्रेस की युवा दिग्गज नेताओं में शुमार थीं। सुष्मिता के पार्टी छोड़ने के कयास काफी समय से लगाए जा रहे थे। कांग्रेस से इस्तीफा देने से पहले सुष्मिता ने अपना ट्विटर बायो बदल लिया था जिसके चलते कयास लगाए जा रहे थे कि वह जल्द ही कांग्रेस से किनारा कर सकती हैं। पत्र में उन्होंने अपने आगे का समय जनकल्याण के लिए देने की बात कही है। उन्होंने सोनिया गांधी को इस्तीफा सौंपे जाने के साथ ही अपना ट्विटर बायो भी बदलकर कांग्रेस की ‘पूर्व  सदस्य’ कर दिया।

संतोष मोहन देव की बेटी हैं सुष्मिता

सुष्मिता कांग्रेस के दिग्गज नेता संतोष मोहन देव की बेटी हैं। संतोष मोहन देव पूर्व में भारत सरकार में कैबिनेट मंत्री भी रह चुके हैं। उनकी मां बिथिका देव भी विधायक रह चुकी हैं। वहीं सुष्मिता असम की सिल्चर सीट से कांग्रेस पार्टी की सांसद भी रह चुकी हैं। सुष्मिता के इस्तीफे के बाद कांग्रेस में अंदर ही सवाल उठने शुरू हो गए हैं। चिदंबरम ने जहां इसपर विचार करने की बात कही तो वहीं कपिल सिब्बल ने युवा नेताओं के इस तरह पार्टी छोड़कर जाने पर सवाल उठाए।

सोनिया गांधी को नहीं मिला खत- सुरजेवाला

सुष्मिता देव के इस्तीफे से कांग्रेस में अंदर ही सवाल जवाब का सिलसिला शुरू हो चुका है। वहीं कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने सुष्मिता से संपर्क की कोशिश करने की बात कही है। उन्होंने कहा कि वो उनसे संपर्क कर रहे हैं लेकिन अभी उनका फोन ऑफ है। वह कांग्रेस की कद्दावर नेता हैं। वहीं सुरजेवाला ने कहा कि सोनिया गांधी को अभी उनका खत नहीं मिला है।

‘सुष्मिता के इस्तीफे से बाहर आया नेताओं का दर्द’

सुष्मिता के इस्तीफे पर एक ओर जहां सुरजेवाला उनसे संपर्क करने की बात कह रहे हैं तो दूसरी ओर कपिल सिब्बल ने इसपर सवाल खड़े किए हैं। सिब्बल ने ट्वीट कर लिखा की अंतर्कलह से जूझ रही कांग्रेस पार्टी के नेताओं का दर्द सुष्मिता देव के इस्तीफे के साथ बाहर आ गया। उन्होंने अपने ट्विटर अकाउंट पर लिखा कि जब युवा नेता पार्टी छोड़कर जाते हैं तो इसका आरोप पार्टी के पुराने और ‘बुजुर्ग’ नेताओं पर लगता है।

कांग्रेस छोड़ने वाले युवाओं में सुष्मिता भी शामिल

बता दें कि पिछले कुछ महीनों में कांग्रेस के कई युवा नेता पार्टी को अलविदा कह चुके हैं। अब इस लिस्ट में सुष्मिता देव का नाम भी शामिल हो चुका है। राहुल गांधी के करीबी रहे ज्य़ोतिरादित्य सिंधिया और जितिन प्रसाद के बाद अब सुष्मिता के जाने से पार्टी में युवाओं नेताओं की कमी खलने लगी है।

Related posts

महाराष्ट्र में हनुमान चालीसा पर लगातार बवाल जारी, सांसद नवनीत राणा और विधायक पति को 14 दिन की न्यायिक हिरासत, राजद्रोह का केस भी किया दर्ज

Rahul

अभी गठबंधन पर विचार नहीं कर रही है बसपाः सूत्र

kumari ashu

राजस्थान: ओमिक्रॉन के 4 और संक्रमित मिलने से हड़कंप, मरीजों की संख्या बढ़कर 13 हुई

Saurabh