January 23, 2022 1:01 am
featured देश यूपी राज्य

कोरोना साया के बीच कांग्रेस रद्द कर सकती हैं रैलियां, महिला मैराथन से भी किया किनारा

कांग्रेस ने इन्हें बनाया ‘सूचना का अधिकार’ विभाग का जिला चेयरमैन

देश में कोरोना की बढ़ती रफ्तार और दूसरी तरफ आगामी विधानसभा चुनाव को लेकर प्रचार प्रसार। ऐसे में राजनीतिक पार्टी के लिए चुनावी रणनीति तय करना थोड़ा मुश्किल होता दिखाई दे रहा है। जहां एक और कांग्रेस दल में कोरोनावायरस में एंट्री मार ली है। ऐसे में सूत्रों से प्राप्त जानकारी के मुताबिक, कांग्रेस बड़ी रैलियों को रद्द कर सकती है। कांग्रेस डिजिटल एवं सोशल मीडिया के जरिए चुनाव कैंपेनिंग पर जोर देती दिखाई दे सकती है। वही जानकारी के मुताबिक छोटी-छोटी जनसभाओं के साथ कांग्रेस वर्चुअल रैली पर भी विचार कर रही है। 

कांग्रेस ने रद्द किया महिला मैराथन 

इस बार कांग्रेस विधानसभा चुनावों की तैयारी ‘लड़की हूं, लड़ हूं’ नारे के साथ कर रही है। इसी के तहत कांग्रेस ने महिला मैराथन का आयोजन किया था। लेकिन कल आयोजित महिला मैराथन में भगदड़ के बाद कांग्रेस ने अन्य प्रयोजित महिला मैराथन को रद्द कर दिया है। आपको बता दें नोएडा, वाराणसी समेत प्रदेश के सात से आठ जिलों में महिला मैराथन आयोजित किए जाने थे। 

डिजिटल और सोशल मीडिया पर चुनाव प्रचार करने की तैयारी में कांग्रेस

कांग्रेस पार्टी के सोशल मीडिया रोहन गुप्ता ने संवाददाताओं से बात करते हुए बताया है कि देश में जिस प्रकार का माहौल बन रहा है ऐसे में चुनावी रणनीति में बदलाव करना होगा इसको देखते हुए हम ज्यादा से ज्यादा सोशल मीडिया कैंपेनिंग का इस्तेमाल करेंगे। डिजिटल रैली, फेसबुक लाइव जैसे अन्य डिजिटल माध्यमों का उपयोग किया जाएगा।

रोहन गुप्ता ने आगे बताया है कि सभी राष्ट्रीय नेताओं की रैली को भी वर्चुअल माध्यम से किया जाएगा। वहीं जहां एक ओर देश में कोरोना की रफ्तार बढ़ रही है ऐसे में हम अपनी पूरी जिम्मेदारी निभाएंगे। 

हाल ही में हुई थी कांग्रेस की बैठक

जानकारी के मुताबिक उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी ने हाल ही में एक बैठक का आयोजन किया था। जिसमें कांग्रेस की महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा शामिल हुई थी। इस बैठक के दौरान चर्चा की गई की कोरोना के चलते प्रदेश में आगे का चुनाव प्रचार कैसे किया जाए। बैठक के दौरान कांग्रेस के वरिष्ठ नेता प्रमोद तिवारी ने कहा कि प्रियंका गांधी के नेतृत्व में कांग्रेस ने सुझाव दिया है। कि छोटी रैलियां आयोजित की जाए, जिन्हें आसानी से मैनेज किया जा सके, इसके अलावा वर्चुअल रैली का आयोजन किया जाए। 

Related posts

नोटबंदी के फैसले को लेकर मैडम माया ने फिर की पीएम से गुहार

piyush shukla

दैनिक राशिफल: सितारों के अनुसार कैसे करें अपने दिन की शुरुआत

Aditya Mishra

नीतीश सरकार ने किया बिहार में सबसे बड़ा प्रशासनिक फेरबदल

Rani Naqvi