Bijli आकाशीय बिजली का कोहराम, 24 घंटों में करीब 70 लोगों की हुई मौत

पिछले 24 घंटों में हुई मानसूनी बारिश ने जहां कई लोगों को गर्मी से राहत दिलाई, तो कई परिवारों के लिए ये कहर बनकर टूटी। दरअसल उत्तर भारत के तीन बड़े राज्यों में आकाशीय बिजली गिरने से करीब 70 लोगों की मौत हो गई है।

यूपी में सबसे अधिक 40 मौतें

बता दें कि उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश और राजस्थान में आकाशीय बिजली गिरने से अबतक 70 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है। बताया जा रहा है कि सबसे अधिक 40 मौतें उत्तर प्रदेश में हुई है। वहीं राजस्थान में 20 से ज्यादा और मध्य प्रदेश में 7 लोगों की मौत हुई है।

पीएम ने किया सहायता राशि देने का ऐलान

वहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बिजली गिरने से हुई लोगों की मौत पर गहरा शोक व्यक्त किया है। PMO ने बताया कि प्रधानमंत्री ने आकाशीय बिजली से जान गंवाने वालों के परिजनों को राष्ट्रीय राहत कोष से 2 लाख रुपए और घायलों को 50,000 रुपए की सहायता राशि देने का ऐलान किया है।

13 मौतें प्रयागराज जिले में हुई

खबर के मुताबिक उत्तर प्रदेश में सबसे ज्यादा 13 मौतें प्रयागराज जिले में हुई। वहीं कानपुर देहात में 6, फतेहपुर जिले में 7, हमीरपुर में 2, कौशाम्बी में 3, प्रतापगढ़ में 2, आगरा में 3, चित्रकूट में 2 और वाराणसी, रायबरेली जिले में 1-1 व्यक्ति की मौत हुई है। साथ ही 200 से ज्यादा मवेशियों की भी मौत आकाशीय बिजली गिरने से हुई।

सीएम योगी ने प्रकट किया दुख

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस घटना पर दुख प्रकट किया है। और परिवार वालों को नियम के मुताबिक दी जाने वाली राहत राशि की तुरंत बांटे जाने के निर्देश दिए। वहीं राजस्थान के कई हिस्सों में बिजली गिरने की अलग-अलग घटनाओं में अब तक 20 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है। जहां सबसे ज्यादा 16 मौतें राजधानी जयपुर में हुई है।

5-5 लाख की सहायता की घोषणा

राजस्थान में बिजली गिरने से हुई मौतों पर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने दुख प्रकट करते हुए मृतकों के परिजनों को 5-5 लाख रुपए की आर्थिक सहायता की घोषणा की।

आत्मनिर्भर भारतः मंत्री नंदी ने 100 महिलाओं को दिया इलेक्ट्रॉनिक सिलाई मशीन

Previous article

बाबरी मस्जिद के पूर्व पक्षकार इकबाल अंसारी ने भी किया नई जनसंख्या नीति का समर्थन

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.

More in featured