January 17, 2022 1:05 am
featured देश

महाराष्ट्र: हिरासत में लिए गए केंद्रीय मंत्री नारायण राणे, गिरफ्तार करने की प्रक्रिया में जुटी पुलिस

661283 narayan rane महाराष्ट्र: हिरासत में लिए गए केंद्रीय मंत्री नारायण राणे, गिरफ्तार करने की प्रक्रिया में जुटी पुलिस

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे पर विवादित बयान देने को लेकर केंद्रीय मंत्री नारायण राणे को महाराष्ट्र पुलिस ने हिरासत में ले लिया है। कुछ देर में पुलिस उनकी गिरफ्तारी भी कर सकती है।

हिरासत में लिए गए केंद्रीय मंत्री नारायण राणे

केंद्रीय मंत्री नारायण राणे को महाराष्ट्र पुलिस ने चिपलून से हिरासत में ले लिया है। मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को लेकर दिए गए विवादित बयान को लेकर नारायण राणे को हिरासत में लिया गया है। नारायण राणे के खिलाफ अब तक 4 एफआईआर दर्ज हो चुकी हैं। वहीं पुलिस के मुताबिक उन्हें गिरफ्तार करने के प्रक्रिया जारी है। पुलिस ने नारायण राणे को उनकी ही गाड़ी में बैठाकर रखा। वहीं नारायण राणे को रतनागिरी कोर्ट से भी राहत नहीं मिली।

रत्नागिरी कोर्ट ने खारिज की याचिका

बता दें कि केंद्रीय मंत्री और बीजेपी नेता नारायण राणे के बयान पर महाराष्ट्र में विवाद छिड़ गया है। नारायण राणे की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं। इधर रत्नागिरी कोर्ट ने राणे की अग्रिम जमानत याचिका को खारिज कर दिया है। तो उधर महाराष्ट्र के नासिक में भारतीय जनता पार्टी के दफ्तर पर पत्थरबाजी का मामला सामने आया था। बताया जा रहा है कि शिवसेना कार्यकर्ताओं ने बीजेपी दफ्तर में पत्थरबाजी की। नासिक ही नहीं अब मुंबई, अमरावती, रत्नागिरी समेत कई शहरों में नारायण राणे के खिलाफ प्रदर्शन हो रहा है।

बॉम्बे हाईकोर्ट ने अपील सुनने से किया इनकार

रत्नागिरी कोर्ट द्वारा उनकी अग्रिम जमानत याचिका को खारिज कर दिया गया. साथ ही बॉम्बे हाईकोर्ट ने भी नारायण राणे की अपील सुनने से इनकार कर दिया। शहर-शहर नारायण राणे के बयान को लेकर प्रदर्शन हो रहे हैं।

मुख्यमंत्री को थप्पड़ मारने की कही थी बात

दरअसल नारायण राणे ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री को अपने एक बयान में थप्पड़ मारने तक की बात कह दी थी। जिसके बाद से शिवसेनिकों का गुस्सा सातवें आसमान पर पहुंच गया। वहीं राणे के इस बयान के बाद उनपर एक FIR दर्ज की गई है। राणे ने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे की आलोचना करते हुए उन्हें थप्पड़ मारने की बात कही थी।

Related posts

शिवसेना के विरोध के बाद नवाज की रामलीला में ‘नो-एंट्री’

Rahul srivastava

पशुवध नियम को लेकर जारी किए गए नोटिफिकेशन का हुआ विरोध

Srishti vishwakarma

संसद के मॉनसून सत्र से पहले पीएम मोदी बोले- विपक्ष के नेता तीखे से तीखा सवाल पूछें, लेकिन…

pratiyush chaubey