estroid towards earth e1615530874364 नासा, नासा ने दावा किया कि जल्द ही पृथ्वी के बहुत नज़दीक से गुज़रेगा अभी तक का सबसे बड़ा एस्ट्रॉयड

भारत – नासा के मुताबिक़ अब तक का सबसे बड़ा एस्टेरॉयड पृथ्वी की तरफ बहुत तेज़ी से बढ़ रहा है। नासा द्वारा बताया गया है कि 21 मार्च को यह एस्टेरॉयड पृथ्वी के बहुत नज़दीक से गुज़रेगा। हालांकि नासा ने बताया कि इसके पृथ्वी के पास से गुज़रने पर किसी भी प्रकार का नुक्सान नहीं है।

3000 फ़ीट है एस्टेरॉयड की ऊंचाई –
नासा के अनुसार इस एस्टेरॉयड की ऊंचाई लगभग 3000 फ़ीट है। नासा ने यह भी बताया वैज्ञानिक एस्टेरॉयड 2001 एफओ 32 का पृथ्वी के पास से गुज़रता हुआ देखने को बेताब है। क्योंकि नासा द्वारा इस एस्टेरॉयड की ख़ोज लगभग 20 साल पहले की गयी थी। २० साल पहले ख़ोज की गयी थी कि एक एस्ट्रॉयड पृथ्वी की तरफ बहुत तेज़ी से बढ़ रहा है, बताया जा रहा है कि यह 21 मार्च 2021 को पृथ्वी के बहुत नज़दीक से गुज़रेगा।

क्या कहना है पॉल चोडास का –
नासा के निदेशक पॉल चोडास के अनुसार जब यह एस्टेरॉयड सूर्य के चारो ओर चक्कर लगा रहा था, तब एफओ 32 के कक्षीय मार्ग का पता लगाया गया था। इसीलिए इसकी पृथ्वी से दूरी लगभग 1.25 मिलियन तक ही होगी इससे ज्यादा पास कभी कोई एस्टेरॉयड नहीं आ सकता। अतः खतरे की कोई बात नहीं है। नासा के मुताबिक 2001 एफओ 32 एस्टेरॉयड की रफ्तार 77,000 मील प्रति घंटे की है। जो पृथ्वी के पास मौजूद एस्टेरॉयड की तुलना में बहुत ज्यादा है. नासा के जेट प्रोपल्शन लेबोरेटरी के मुख्य वैज्ञानिक लांस बैनर ने कहा कि अभी तक इस एस्टेरॉयड के बारे में ज्यादा लोगों को जानकारी नहीं थी लेकिन अब सब लोग इसके बारे में जान जाएंगे। तो वहीं पॉल साहब ने बताया कि एस्टेरॉयड आकाश में दक्षिण दिशा में नजर आयेगा और ये बेहद चमकीला होगा, लेकिन इसको खोजने में एक स्टार चार्ट की जरूरत पड़ सकती है।

 

 

क्वाड देशों के प्रमुखों की आज ऐतिहासिक बैठक PM मोदी, सुगा, बाइडन और मॉरीसन तय करेंगे भावी एजेंडा

Previous article

बर्फानी बाबा के स्वरूप में नजर आए महादेव, वैष्णव कुंभ में महाशिवरात्रि की दिखी अद्भुत छटा

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.